दिवंगत पूर्व सीएम के बेटे उत्पल ने भाजपा क्यों छोड़ी, जानें वजह

इस सीट से निर्दलीय चुनाव लड़ने का तक फैसला कर लिया है

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। गोवा समेत देश के पांच राज्यों में चुनाव आयोग ने चुनाव का ऐलान कर दिया हैं जिसको लेकर पार्टियों ने चुनाव की तैयारी जोर शोर पर कर दी हैं वहीं गुरुवार को BJP ने विधानसभा चुनाव के लिए 34 कैंडिडेट्स की लिस्ट जारी की हैं साथ ही नाराज कैंडिडेट्स ने लगभग सभी पार्टियों की मुश्किलें बढ़ा दी है ऐसा ही कुछ गोवा में देखने को मिल रहा है। यहां पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के बेटे उत्पल पर्रिकर ने बीजेपी की मुश्किलें बढ़ा दी है।

यह भी पढ़े…एक तरफा इश्क में प्रेमी ने लगाई शादीशुदा प्रेमिका घर के सामने से आग

हम आपको बता दें कि पणजी से टिकट न मिलने से नाराज चल रहे गोवा के पूर्व CM मनोहर पर्रिकर के बेटे उत्पल (Utpal parikar) ने BJP छोड़ने का ऐलान कर दिया हैं उन्होंने शुक्रवार को साफ कर दिया कि वे पणजी सीट से निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ेंगे। उन्होंने कहा कि पणजी की जनता का उन्हें सपोर्ट है और वही उनके भाग्य का फैसला करेंगे।

यह भी पढ़े…जबलपुर : नई शराब नीति पर सांसद राकेश सिंह ने दिया यह बयान, जानें

गौरतलब हैं कि दिवंगत पूर्व सीएम मनोहर पर्रिकर भी पणजी सीट से चुनाव लड़ा करते थे अब उनके बेटे भी इसी सीट से अपनी दावेदारी कर रहे हैं जबकि पार्टी ने उन्हें पणजी सीट को छोड़कर किसी अन्य सीट से लड़ने का ऑफर दिया है लेकिन उत्पल का कहना है कि उनके पिता स्‍वर्गीय मनोहर पर्रिकर लगतार 25 साल पणजी का प्रतिनिधित्‍व करते रहे। इसलिए मैं भी इसी सीट से चुनाव लडूंगा। मगर भाजपा ने पर्रिकर के कब्जे वाली सीट पणजी से अतानासियो मोनसेरेट ‘बाबुश’ को मैदान में उतारा दिया है। इस बात से उनके बेटे उत्पल पर्रिकर ने भाजपा से अब दूरी बना ली और भाजपा छोड़ने तक का ऐलान कर दिया साथ ही इस सीट से निर्दलीय चुनाव लड़ने का तक फैसला कर लिया है।