भाजपा

देहरादून, डेस्क रिपोर्ट। विधानसभा चुनावों से पहले उत्तराखंड (Uttarakhand) में उठा सियासी तूफान थम गया है। त्रिवेंद्र सिंह रावत के इस्तीफा देने के बाद भाजपा (BJP) ने नए मुख्यमंत्री का ऐलान कर दिया है। पूर्व बीजेपी अध्यक्ष और गढ़वाल लोकसभा क्षेत्र (Pauri Garhwal Lok Sabha Constituency) से सांसद तीरथ सिंह रावत  (Tirath Singh Rawat) को उत्तराखंड (Uttarakhand CM)का नया मुख्यमंत्री बनाया है।

यह भी पढ़े… शिवराज सिंह, नरोत्तम मिश्रा और कैलाश विजयवर्गीय को बड़ी जिम्मेदारी, सिंधिया बाहर

तीरथ ने शाम चार बजे राजभवन (Uttarakhand Raj Bhavan) में मुख्यमंत्री पद की गोपनीयता की शपथ ली।मुख्‍यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद तीरथ सिंह रावत ने कहा-‘मैं सबको साथ लेकर चलूंगा। मैंने आरएसएस में सबको साथ लेकर चलने की ट्रेनिंग पाई है। मैंने पूर्व पीएम अटल जी के साथ कार्यकर्ता के रूप में काम किया।

दरअसल, आज सुबह बुधवार को देहरादून में हुई बीजेपी विधायक दल की बैठक में रावत के नाम पर मुहर लगी है। पूरे मंत्रिमंडल का शपथ ग्रहण और विभागों का बंटवारा भी आज ही किया जाएगा। बताया गया कि पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत (Trivendra Singh Rawat)  ने तीरथ सिंह रावत का नाम प्रस्तावित किया था। जिस पर पार्टी के सभी नेताओं ने अपना समर्थन दिया।

इस मौके पर तीरथ सिंह रावत ने कहा कि मैं केंद्रीय नेतृत्व का धन्यवाद करना चाहूंगा, जिन्होंने मुझे यह जिम्मेदारी सौंपी है। अब तक मुख्यमंत्री जी ने प्रदेश के लिए जो काम किए हैं, उसे हम आगे बढ़ाएंगे। कभी भी राजनीति में आने का नहीं सोचा था। बाद में अटल बिहारी वाजपेयी से प्रेरणा लेकर वे आगे बढ़े।

तीरथ सिंह रावत का राजनैतिक करियर

  • 2013 से 2015 तक उत्तराखंड भाजपा (Uttarakhand BJP) के प्रदेश अध्यक्ष रहे।
  • चौबटखल विधानसभा से 2012 से 2017 तक विधायक रहे।
  • वर्तमान में वह भाजपा के नेशनल सेक्रेटरी हैं।
  • उत्तरप्रदेश भारतीय जनता युवा मोर्चा के उपाध्यक्ष भी रहे हैं।
  • 1997 में यूपी (UP) से विधायक(MLA) भी रह चुके है।
  • उत्तराखंड के पहले शिक्षामंत्री (Education Minister) रहे हैं।
  • वर्तमान में वे पौड़ी गढ़वाल लोकसभा सीट से सांसद हैं।
  • तीरथ 1983 से 1988 तक राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रांत प्रचारक रहे हैं।
  • अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (उत्तराखण्ड) के संगठन मंत्री और राष्ट्रीय मंत्री रहे।
  • हेमवती नंदन गढ़वाल यूनिवर्सिटी (College) में छात्र संघ अध्यक्ष और छात्र संघ मोर्चा (उत्तर प्रदेश) में प्रदेश उपाध्यक्ष भी रहे थे।