Viral Video : हिंदी-अंग्रेजी को लेकर जज और वकील में ठनी, वकील ने दी जोरदार दलील

Judge lawyer debate on Hindi-English language : हिंदी और अंग्रेजी में अक्सर ठनी रहती है। इन भाषाओं का तो कोई कसूर नहीं लेकिन ठेठ हिंदी वाले और अंग्रेजीदां लोगों में जाने क्यों अजीब सी तनातनी रहती है। हिंदी वाले अपनी मातृभाषा को सबसे महान बताते हैं तो अंग्रेजी को एलीट क्लास से जोड़कर भी देखा जाता है। हालांकि भाषा सीखना-जानना नितांत व्यक्तिगत मामला है। आप किस स्थान पर जन्मे हैं, कैसी शिक्षा प्राप्त हुई है, घर का माहौल और आसपास का वातावरण हमारी अन्य आदतों की तरह भाषा पर भी असर डालता है, फिर बात हिंदी अंग्रेजी की हो या किसी अन्य भाषा की।

आज हम आपके लिए एक रोचक वीडियो लेकर आए हैं। ये बिहार में किसी अदालत का वीडियो है और यहां जज और वकील के बीच भाषा को लेकर बहस हो गई। वकील हिंदी में कुछ बोल रहे हैं तभी जज अंग्रेजी में कहते हैं कि क्या आपको लगता है कि मैं ये समझ पा रहा हूं। इसपर वकील कहता है कि ”हुजूर यही तो रोना है..हम भी अंग्रेजी नहीं समझ रहे। इसपर जज कहते हैं कि ‘मैं आपकी याचिका रिजेक्ट कर दूंगा।’ अधिवक्ता कहते हैं ‘सर रिजेक्ट तो फुल बेंच है। पूरी बेंच हिंदी के पक्ष में है।’ आगे वकील कहते हैं कि आज से हिंदी में नहीं हो रहा, आज भी पटना हाईकोर्ट में सब सुन रहे हैं। हम तो कह रहे हैं कि अनुवादक विभाग से मांग लिया जाए। हम अंग्रेजी नहीं जानते हैं हमसे अंग्रेजी अनुवाद हुजूर मांग रहे हैं।’

Continue Reading

About Author
श्रुति कुशवाहा

श्रुति कुशवाहा

2001 में माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय भोपाल से पत्रकारिता में स्नातकोत्तर (M.J, Masters of Journalism)। 2001 से 2013 तक ईटीवी हैदराबाद, सहारा न्यूज दिल्ली-भोपाल, लाइव इंडिया मुंबई में कार्य अनुभव। साहित्य पठन-पाठन में विशेष रूचि।