सास से कहासुनी के बाद महिला ने तीन बच्चों सहित आग लगाई

438

शिवपुरी| शिवपुरी जिले के पिछोर थाना अंतर्गत एक दिल दहला देने वाला घटनाक्रम सामने आया है, जिसमें एक महिला ने अपने तीन मासूम बच्चों के साथ अग्निस्नान कर लिया। इस इस आत्मघाती कदम में महिला और तीनों बच्चे बुरी तरह झुलस गए, जिनकी हालत गंभीर है। बताया जा रहा है कि सास से अनबर के चलते महिला ने खुद का आग लगाते हुए बच्चों को भी इस अग्रि स्नान में शामिल कर लिया। आग से झुलसे सभी घायलों को पहले पिछोर के अस्पताल लाया गया बाद में उन्हें ग्वालियर रैफर कर दिया गया। यहां पर सभी की हालत गंभीर है।

जिले के पिछोर से लगभग 23 किमी की दूरी पर स्थित ग्राम पारेश्वर में दिनेश जाटव की पत्नी वर्षा जाटव ने आत्मघाती कदम उठाते हुए अपने ही घर में 6 साल की बेटी सुखिया, 3 साल के बेटे राजा और 4 महीने के नवजात बच्चे के साथ खुद को तेल डालकर आग के हवाले कर दिया। आग लगते ही घर में चीख पुकार मच गई जिसे सुनकर अन्य परिजन व पड़ोसियों ने मौके पर पहुँचकर कर बमुश्किल आग को बुझाया। आगजनी की इस घटना में तीनों मासूम और इनकी माँ वर्षा बुरी तरह झुलस गए। मामले की जानकारी लगते ही पिछोर थाने में पदस्थ पुलिसकर्मी संजीव पवार मौके पर जा पहुँचे,जिन्होंने खुद के बाहन में झुलसी हुई वर्षा और उसके बच्चों को रख इन्हें उपचार हेतु पिछोर अस्पताल ले जा पहुँचे। बताया जाता है कि पिछोर अस्पताल में उपचार के दौरान वर्षा ने इस आत्मघाती कदम को उठाने के पीछे मुख्य कारण सास ससुर से झगड़ा होना बताया है। लेकिन बताया यह भी जा रहा है कि जिस समय वर्षा ने यह कदम उठाया उस समय उसके सास ससुर खेत पर थे। मामल जो भी हो फिलहाल पुलिस जाँच में जुटी दिखाई दे रही है। पुलिस ने बताया है कि परिजनों का कहना है कि वर्षा का पति दिनेश पिछले एक माह से मजदूरी के लिए इंदौर गया है। बताया जाता है कि वर्षा एक दिन पहले ही मायके से ससुराल आई थी, लेकिन अचानक इनके घर मे ऐसा क्या हुआ कि वर्षा को इतना बड़ा आत्मघाती कदम उठाना पड़ा। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here