उज्जैन, डेस्क रिपोर्ट।12 ज्योतिर्लिंगों में से एक उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर में आज बाबा महाकाल की शाही सवारी निकाली गई। बाबा महाकाल कार्तिक मास में प्रजा का हाल जानने के लिए गर्भ गृह से निकले। महाकाल की सवारी गाजे-बाजे और धूमधाम के साथ निकाली गई। राजाधिराज के दर्शन पाकर महाकाल के भक्त खुशी से झूम उठे। बता दें कि बाबा महाकाल ने चंद्रमौलेश्वर रूप में अपने भक्तों को दर्शन दिए।

बाबा महाकालेश्वर श्रावण भादो और कार्तिक‌ अगहन महीने में उज्जैन की प्रजा का हाल जानने के लिए गर्भ गृह से निकलते हैं। ‌सावन महीने में तो महाकाल की सवारी निकाली ही जाती है इसके साथ ही दशहरा और बैकुंठ चतुर्दशी पर भी बाबा महाकाल की शाही सवारी निकाली जाती है। बता दें कि बाबा महाकाल की अगली सवारी 23 नवंबर को निकाली जाएगी। साथ ही इसके बाद 28 नवंबर को दोपहर 11:00 बजे बैकुंठ चतुर्दशी की सवारी निकाली जाएगी।