जयंत मलैया के समर्थन में पोस्टर वार शुरू, चाय दुकानदार ने लगाया ‘बिकाऊ नहीं टिकाऊ विधायक चाहिए’

दमोह जिले में कांग्रेस विधायक के इस्तीफे के बाद राजनीतिक माहौल बन गया है। जिसे लेकर एक चाय के दुकानदार द्वारा लगाया गया पोस्टर चर्चाओं में है। इस पोस्टर में उसने 'बिकाऊ नहीं टिकाऊ विधायक चाहिए' लिखा है।

दमोह, गणेश अग्रवाल। विधानसभा से कांग्रेस के विधायक रहे राहुल सिंह लोधी के द्वारा विधानसभा सदस्य पद से इस्तीफा दिए जाने के बाद अब दमोह में लगातार ही राजनीतिक घटनाक्रम बदलने लगा है। जहां भारतीय जनता पार्टी के कद्दावर नेता पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया अपनी दावेदारी को लेकर लगातार चर्चाओं में है, तो वहीं अब उनके समर्थन में शहर के अंदर पोस्टर वार भी शुरू हो गया है।

राहुल सिंह लोधी के भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने के बाद दीपावली के अवसर पर बड़े-बड़े होर्डिंग दमोह शहर सहित पूरे विधानसभा क्षेत्र में लगाए गए। जिसमें उनको बड़े नेता के रूप में प्रस्तुत किया गया, तो वहीं 35 वर्षों से दमोह की राजनीति में भाजपा के बैनर पर कद्दावर नेता रहे जयंत मलैया को उनके समर्थक आगामी प्रत्याशी के रूप में चाहते है। ऐसे में अब दुकानदारों के द्वारा उनके समर्थन में अपनी दुकानों पर पोस्टर लगाए जा रहे है।

एक चाय के दुकानदार के द्वारा एक पोस्टर अपनी दुकान के बाहर लगाया गया है और वह पोस्टर अब चर्चाओं में है। इस पोस्टर में उसने ‘बिकाऊ नहीं टिकाऊ विधायक चाहिए’ जैसे शब्दों का प्रयोग करते हुए पोस्टर लगाया है। साथ ही साफ तौर पर कहा है कि उन्हें विधायक के रुप में केवल जयंत मलैया ही चाहिए, कोई दल बदलू वर्तमान भाजपा नेता राहुल सिंह लोधी नहीं। ऐसे में आगामी दिनों में राजनीतिक घटनाक्रम के बदलने और गर्म होने का मामला सामने आ सकता है। साथ ही भाजपा में ही पोस्टर वार और गुटबाजी के हालात भी देखने मिल सकते वहीं चाय दुकानदार का है। पोस्टर अब तेजी से वायरल भी हो रहा है।

कांग्रेस की टिकट पर चुनाव लड़ने वाले राहुल सिंह लोधी ने बीते चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी जयंत मलैया को शिकस्त दी थी। वहीं उनके द्वारा भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम लिए जाने के बाद अब आगामी दिनों में दमोह विधानसभा पर उपचुनाव के हालात है। ऐसे में भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी के रूप में राहुल सिंह लोधी ही चुनाव मैदान में होंगे, ऐसा कयास लगाया जा रहा है। इसलिए दमोह में जयंत मलैया के समर्थक अब उनके समर्थन में पोस्टर लगाकर उनकी दावेदारी को मजबूत करने में लगे है।