पॉक्सो एक्ट पर लिखी पुस्तक का विमोचन, गृह मंत्री बोले- लैंगिक शोषण के अपराधियों को नहीं बख्शेगी सरकार

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट

गुरुवार को मध्यप्रदेश लोक अभियोजन द्वारा भोपाल में पुस्तक विमोचन कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें पॉक्सो एक्ट- अनुसंधान एवं विचारण विषय पर लिखी गई पुस्तक का विमोचन माननीय गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने किया। इस पुस्तक को पुरुषोत्तम शर्मा ( महानिदेशक/संचालक लोक अभियोजन मध्यप्रदेश) और सीमा शर्मा ( म.प्र. राज्य समन्वयक पॉक्सो एक्ट/ एडीओपी) रतलाम द्वारा लिखी गई है।

कार्यक्रम का संचालन कर रही प्रमुख जनसंपर्क अधिकारी लोक अभियोजन मौसमी तिवारी ने बताया कि अधिनियन के अनुसंधान और अभियोजन की संपूर्ण प्रक्रिया को समाहित कर लॉकडाउन के दौरान लेखक द्वय द्वारा यह पुस्तक समस्त विधि जगत को एक नई दिशा और चेतना प्रदान करेगी।

वहीं पुस्तक का विमोचन करते हुए मुख्य अतिथि गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा द्वारा इस पुस्तक को लिखने के लिए पुरुषोत्तम शर्मा और सीमा शर्मा को बधाई दी गई। साथ ही उन्होंने लॉकडाउन के कठिन समय ऐसे संबेदनशील विषय पर पुस्तक लेखन का कार्य करने के लिए पुरुषोत्तम शर्मा प्रशंसा की। पुस्तक के विषय में मंत्री ने कहा कि इस पुस्तक  से मध्य प्रदेन ही नहीं बल्कि पूरे देश को लाभ मिलेगा।

इस अवसर पर मंत्री ने कहा कि मध्य प्रदेश सरकार नौनिहालों के विरुध्द हो रहे किसी भी प्रकार के लैंगिक शोषण को बर्दाश्त नहीं करेगी और ऐसे घृणित अपराधों को करने वालो अपराधियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने के लिए प्रदेश सरकार प्रतिबध्द है। खुद को गोरन्वित करते हुए मंत्री ने कहा कि मैं एक ऐसे विभाग का पालक मंत्री हूं जो मानवता के विरुध हो रहे सबसे घृणित अपराधों के विरुध अपनी पूरी क्षमता और उर्जा के साथ प्रदेश का प्रतिनिधित्व कर रहा हैं।

वहीं गृह मंत्री ने अपने ट्वीटर पर लिखा कि पॉक्सो एक्ट अनुसंधान एवं विचारण विषय पर बेहद प्रासंगिक एवं महत्वपूर्ण पुस्तक का विमोचन किया। यह किताब  पुरुषोत्तम शर्मा, डीजी (लोक अभियोजन) और सहायक जिला लोक अभियोजन अधिकारी सीमा शर्मा ने लिखी है। यह पुस्तक अपराधियों के खिलाफ त्वरित और मुकम्मल न्याय के लिए उपयोगी साबित होगी।