सीहोर। अनुराग शर्मा।

पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने कहा है कि शाहीन बाग की तर्ज पर पूरे देश मे होने वाले धरना प्रदर्शन में CAA के मुद्दे पर लोगों की बहकाया जा रहा है और गुमराह किया जा रहा है। उन्होने कहा कि राजगढ़ में बद्रीलाल यादव की टिप्पणी अशोभनीय थी जिसके लिए उन पर कार्यवाही भी ही गई और उन्होने माफी भी मांग ली, लेकिन साथ ही ये सवाल भी उठता है कि तिरंगा हाथ मे लेकर प्रदर्शन कर रहे लोगों को मारना कहा तक उचित था। राज्य के अधिकारी संविधान सम्मत किसी भी प्रदर्शन का विरोध नही कर सकते।

उमा भारती ने कहा कि मध्यप्रदेश के लिए चिंता का विषय है कि अधिकारी संवैधानिक मर्यादाओं का हनन कर रहे है, ये अधिकारी नेताओं को डकैत और घपलेबाज कह रहे। उन्होने कहा कि कोई भी डकैत ओर घपलेबाज बिना अधिकारियों के संरक्षण के बिना नहीं बनते।

मोहन भागवत द्वारा दिए गए जनसंख्या नियन्त्रण कानून के बयान की पैरवी करते हुए उमा भारती ने कहा कि आरएसएस सर संघ चालक हमारे लिए भगवान जैसे हैं। आजकल तो कई मुस्लिम देश भी जनसंख्या नियन्त्रण के लिए कार्य कर रहे हैं तो फिर हम क्यो नही करें। इससे पहले पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज  सिंह चौरान ने भी मोदी को श्रीराम और अमित शाह को हनुमान बताया था। अब इसी बात को आगे बढ़ाते हुए उमा भारती ने सर संघ चालक को भी भगवान बता दिया है।