बैतुल, वाजिद खान

जिले के डैम पर लोग मौत को दावत देते हुए स्टंट करते नजर आ रहे है, वहीं मामला सामने आने के बाद जल संसाधन विभाग ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने की बात कर रहा है । बैतूल का सापना डैम पानी से लबालब है और यंहा ओवरफ्लो का नजारा देखने के लिए लोग पंहुचने लगे है । रविवार को तो हद ही गई जब ओवरफ्लो देखने पहुंचे कुछ युवक जलाशय के वेस्टवेयर तक पहुंच गए और जान जोखिम में डालकर वेस्टवेयर के ऊपर चढ़ गए और यंहा से कूदकर नहाने लगे।

इतना ही नहीं यंहा दीवार पर चढ़कर स्टंट करते नजर आए , इन्हें रोकने टोकने वाला कोई भी नहीं था । ऐसे में यह स्टंट बहुत खतरनाक हो सकता है, जहां वेस्टवेयर की दीवार बहुत चिकनी होने फिसलन होती है, जो जानलेवा भी हो सकती है । दूसरी तरफ अगर डैम के पानी का स्तर बड़ जाए तो तेज़ बहाव के साथ ओवरफ्लो भी हो सकता है जो बहुत ही खतरनाक हो सकता है ।

हालांकि जल संसाधन विभाग ने पता लगा कर लोगों को चेतावनी भी दी है, लेकिन इस सूचना का कोई असर नहीं हो रहा है । जलाशय लबालब हो गए है और जलाशय पर निगरानी के लिए जल संसाधन विभाग की ओर से किसी कर्मचारी की ड्यूटी नहीं लगाई गई , जिसकी बानगी सापना जलाशय पर देखा गया डैम भरा जाने के बाद डैम की दीवार की  निगरानी की जाती है। लेकिन यंहा तो भगवान भरोसे डैम को छोड़ दिया गया है, शायद इसी वजह से युवक जलाशय के वेस्टवेयर पर चढ़ गए और वहां नहाने लगे और कुछ लोग तो ओवरफ्लो का पानी जहां गिरता है, वहां नहा रहे थे, जो कि बहुत खतरनाक साबित हो सकता था ।

इसको लेकर जल संसाधन विभाग एसडीओ संत कुमार का कहना है कि जानकारी मिली है कि लोग सापना डैम पर वेस्टवेयर पर नहाने के दौरान स्टंट करते हैं, इसको लेकर प्राथमिक कार्रवाई की जा रही है। हमारे कर्मचारी ने इन लोगों को समझाने की कोशिश की थी, लेकिन वो नहीं माने, ऐसे लोगों के खिलाफ विभाग कड़ी कार्रवाई करेगा ।