रोजाना स्नान करते समय करें इस एक मंत्र का जाप, स्वस्थ शरीर के साथ मिलेंगे ये फायदे

Astro Tips : कोई व्यक्ति बीमार या फिर हमेशा परेशान रहता है, तो उसे नहाते वक्त एक मंत्र का जाप करना चाहिए। मंत्र का जाप करना बेहद शुभ माना जाता है।

Astro Tips : रोजाना नियमित रूप से नहाया जाए तो शरीर स्वस्थ और निरोग बना रहता है। इतना ही नहीं हमारे पास नकारात्मकता भी नहीं आती है। अगर कोई व्यक्ति बीमार या फिर हमेशा परेशान रहता है, तो उसे नहाते वक्त एक मंत्र का जाप करना चाहिए। कहा जाता है कि उसे मंत्र का जाप करना बेहद शुभ माना जाता है। नहाते समय अगर मंत्र का जाप किया जाए तो उसे नेगेटिविटी दूर रहती है। साथ ही सकारात्मक बनी रहती है माही रोग भी दूर होते हैं। अगर आप भी परेशान है, तो नहाने से पहले इस मंत्र का उच्चारण जरूर करें।

मंत्र का उच्चारण

ज्योतिषों की माने तो नहाने के दौरान मंत्र का उच्चारण करना अक्षय पुण्य की प्राप्ति माना जाता है। इतना ही नहीं ऐसा करने से व्यक्ति के शरीर और उसकी आत्मा भी शुद्ध होती है। अब आप सोच रहे होंगे कि ऐसा कौन सा मंत्र है जिसके उच्चारण से इतने ज्यादा फायदे शरीर को मिल सकते हैं, तो चलिए जानते हैं उस मंत्र के बारे में –

ये है वो मंत्र

स्नान करते समय रोजाना नियमित रूप से अगर “गंगे च यमुने चैव गोदावरी सरस्वती। नर्मदे सिंधु कावेरी जलऽस्मिन्सन्निधिं कुरु’ का जाप किया जाएँ तो काफी ज्यादा लाभ होते हैं। कहा जाता है कि अधिकतर इस मंत्र का जाप भगवान का जलाभिषेक करते हुए किया जाता है। लेकिन व्यक्ति भी इसका जाप स्नान करते वक्त कर सकता है। इससे व्यक्ति भी शुभ फल प्राप्त कर सकता है।

मंत्र का अर्थ

बात करें मंत्र के अर्थ की तो है “गंगा, यमुना, गोदावरी, सरस्वती, नर्मदा, सिंधु, कावेरी नदियों, मेरे स्नान करने से इस जल में आप सभी पधारिए” होता है। इसका मतलब सभी पवित्र नदियों को आमंत्रित कर उनका आशीर्वाद प्राप्त करना होता है।

मंत्र का जाप करने के लाभ

इस मंत्र का नहाते वक्त नियमित रूप से प्राप्त करने से मन शुद्ध होता है। वहीं तरो ताजगी बनी रहती है। इसके अलावा गलत प्रभाव वाले दोषों से भी बचा जा सकता है। नहाते वक्त अगर एक मंत्र का उच्चारण सही तरीके से किया जाए तो नकारात्मकता भी दूर होती है। वहीं अगर आपका बुरा समय चल रहा है तो वह भी जल्द खत्म होने लगता है। इसके अलावा कहा जाता है कि इस मंत्र का जाप करने से राहु का दुष्प्रभाव भी कम होने लगता है और उग्र ग्रह शांत करने में मदद मिलती है।

डिस्क्लेमर – इस लेख में दी गई सूचनाएं सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है। एमपी ब्रेकिंग इनकी पुष्टि नहीं करता है। किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ की सलाह लें।