Chandra Grahan 2022: सूर्य के बाद अब इस दिन लगेगा चन्द्र ग्रहण, जानें सूतक काल और प्रभाव

सूर्य जब पृथ्वी और चंद्रमा के बीच आ जाता है तो उसे चंद्र ग्रहण कहते हैं, चंद्रग्रहण हमेशा पूर्णिमा तिथि को लगता है।

chandra grahan 2022

धर्म, डेस्क रिपोर्ट। इस बार साल 2022 में कुल 4 ग्रहण (Eclipse 2022) लगेंगे।इसमें ग्रहण  (Solar Eclipse 2022) 30 अप्रैल को लग चुका है और अब  दूसरा ग्रहण (Lunar Eclipse 2022) ठीक 14 दिन बाद लगने वाला है।साल का पहला चन्द्र ग्रहण 16 मई को सुबह 7.02 बजे से शुरू होकर 12.20 बजे तक चलेगा।

यह भी पढ़े.. MP: पश्चिमी विक्षोभ का असर, 23 जिलों में बूंदाबांदी के आसार, इन जिलों में लू का अलर्ट, जानें अपडेट

यह देशों जैसे साउथ-वेस्ट यूरोप, साउथ-वेस्ट एशिया, अफ्रीका, नॉर्थ अमेरिका के ज्यादातर हिस्सों, साउथ अमेरिका, प्रशांत महासागर, हिंद महासागर अंटार्कटिका और अटलांटिक महासागर में देखा जा सकेगा।यह भारत में नहीं दिखाई देगा, इसलिए सूतक काल मान्य नहीं होगा। भारत में इसकी दृश्यता बिलकुल शून्य होगी।इसी के साथ ही इस चंद्र ग्रहण का शुभ या अशुभ प्रभाव भी भारत में नहीं पड़ेगा।

यह भी पढ़े..Planet Transit 2022: मई में ये 4 बड़े ग्रह करेंगे राशि परिवर्तन, जानें राशियों पर क्या पड़ेगा असर?

सूर्य जब पृथ्वी और चंद्रमा के बीच आ जाता है तो उसे चंद्र ग्रहण कहते हैं, चंद्रग्रहण हमेशा पूर्णिमा तिथि को लगता है।जब पृथ्वी, सूर्य और चंद्रमा एक दूसरे के समानांतर आ जाते हैं,  चंद्र ग्रहण आंशिक या पूर्ण (Total Eclipse) भी हो सकता है। वही इस साल का दूसरा चंद्र ग्रहण मंगलवार 8 नवंबर 2022 को लगेगा।  यह चंद्र ग्रहण भारत में कुछ जगहों पर देखा जा सकेगा, इसलिए भारत में इस ग्रहण का धार्मिक प्रभाव और सूतक मान्य होगा।

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी  विभिन्न माध्यमों, ज्योतिषियों, पंचांग और धार्मिक मान्यताओं से ली गई है।  MP BREAKING NEWS इसकी पुष्टि नहीं करता है।)