विजयदशमी पर घोषित हुई चारों धाम के कपाट बंद करने की तिथि

इस दिन बंद होंगे बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के कपाट

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट| आज विजयदशमी (Vijaydashmi) के शुभ अवसर पर चारों धाम (Char Dham) के कपाट बंद होने का शुभ मुहूर्त तय हो गया है। कोरोना संकट (Corona Crisi) के कारण इस बार दर्शनों का समय हर साल की अपेक्षाकृत कम रहा है| शीतकाल के लिए चारों धाम के कपाट बंद करने की तिथियां तय कर दी गई हैं।

गंगोत्री धाम के कपाट 15 नवंबर को, केदारनाथ व यमुनोत्री धाम के कपाट 16 नवंबर को और बदरीनाथ धाम के कपाट 19 नवंबर को शीतकाल के लिए बंद हो जाएंगे। गंगोत्री धाम के कपाट बंद होने के बाद देश-विदेश के श्रद्धालु मां गंगा के दर्शन उनके शीतकालीन प्रवास मुखीमठ (मुखवा) में ही कर सकेंगे।

बता दें कि उत्तराखंड में हर वर्ष चार धाम कपाट बंद होने की तिथि और खोलने की तिथि निर्धारित की जाती है| गंगोत्री मंदिर समिति के अध्यक्ष सुरेश सेमवाल ने मीडिया को बताया कि गंगोत्री धाम के कपाट अन्नकूट के अवसर पर बंद होते हैं। इस बार अन्नकूट पर्व 15 नवंबर को है। इस दिन वेद मंत्रों के साथ मां की मूर्ति का महाभिषेक होता है। उसके बाद विधिवत हवन पूजा-अर्चना के साथ कपाट बंद कर दिए जाएंगे।

कपाटबंदी की तिथि व मुहूर्त :

यमुनोत्री, 16 नवंबर, दोपहर 12ः25 बजे

गंगोत्री, 15 नवंबर, दोपहर 12ः15 बजे

केदारनाथ, 16 नवंबर, सुबह 8ः30 बजे

बदरीनाथ, 19 नवंबर, दोपहर बाद 3ः35 बजे

भविष्य बदरी, 19 नवंबर, दोपहर बाद 3ः35 बजे

मध्यमेश्वर, 19 नवंबर, सुबह सात बजे

तुंगनाथ, चार नवंबर, दोपहर 11ः30 बजे