रावण के क्या सच में 10 सिर थे? जानिए इसका रहस्य और इससे जुड़ी कुछ और बातें

Atul Saxena
Published on -
Dussehra Special, Dussehra 2023, 10 Heads of Ravana

10 Heads Of Ravana: रावण को दशानन, दशग्रीव सहित अन्य कई नामों से जाना जाता है, दशहरे पर रावण दहन की परंपरा है, कल दशहरे पर देश के अलग अलग हिस्सों में रावण दहन होगा, लोग बुराई पर अच्छाई के प्रतीक रावण के पुतले को जलाकर एक दूसरे को शुभकामनायें देंगे फिर रोशनी के पर्व दीवाली की तैयारियों में जुट जायेंगे, लेकिन रावण कितना विद्वान था उसके 10 सिर का क्या रहस्य है, हम इस आलेख में आपको बताएँगे …

रावण लंका का राजा था, उसे लंकेश, लंकापति, दशग्रीव सहित कई नामों से जाना जाता है, वो बड़ा प्रतापी, वो महा पराक्रमी, महा ज्ञानी, वेद शास्त्रों का जानकार, महा पंडित और बहुत बड़ा शिवभक्त थे, शिव तांडव स्त्रोत की रचना रावण ने ही की थी लेकिन महर्षि वाल्मीकि ने रामायण और तुलसीदास जी ने रामचरित मानस में रावण का जैसा वर्णन किया है उसके हिसाब से उसकी छवि एक राक्षस वाली व्यक्ति की आँखों के सामने आ जाती है, वाल्मीकि रामायण और रामचरित मानस में रावण को 10 सिर वाला और 20 भुजाओं वाला विशालकाय वर्णित किया है।

Continue Reading

About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....