Hawan Ki Rakh : ये है हवन की राख के चमत्कारी उपाय, घर में रहेगी बरकत और सुख शांति

Hawan Ki Rakh : हिंदू धर्म में हवन पूजन का काफी ज्यादा महत्व माना गया है। प्राचीन काल से शुरू हुई हवन करवाने की परंपरा अभी तक चलती आ रही है। मान्यता यह है कि हवन करवाने से सभी नकारात्मक ऊर्जा का नाश होता है। साथ ही सकारात्मक ऊर्जा का वास होने लगती है। इसको लेकर ज्योतिष शास्त्र में भी काफी ज्यादा महत्व बताए गए हैं। ज्योतिष शास्त्र में घर की सुख शांति और लोगों के जीवन में खुशहाली बनाए रखने के लिए भी हवन करवाने की सलाह दी जाती है। हवन करवाना बेहद शुभ माना जाता है। इससे पूर्ण फल की प्राप्ति होती है।

आपको बता दें हवन में इस्तेमाल की जाने वाली सामग्री का भी काफी ज्यादा महत्व माना गया है। सभी सामग्री का सही होना काफी ज्यादा जरूरी होता है। हवन के लिए इसमें किसी भी सामग्री की चूक नहीं होना चाहिए। क्योंकि हवन करवाते वक्त अग्नि में हवन सामग्री की आहुति दी जाती है। इसलिए इसका काफी महत्व बताया गया है। हवन होने के बाद बचने वाली राख भी काफी चमत्कारी मानी जाती है। इस राख को घर में रखने से सुख शांति के साथ बरकत बनी रहती है। आज हम आपको राख के कुछ चमत्कारी उपाय के बारे में बताने जा रहे हैं तो चलिए जानते है –

यह है हवन की राख होने वाले फायदे और उपाय –

कहा जाता है कि हवन के वक्त निकलने वाला दुआ वातावरण में सकारात्मकता और शुद्धि लाता है। वहीं हवन की राख नकारात्मकता शक्तियों को दूर करने के लिए इस्तेमाल की जाती है। अगर आप घर में हवन करवाते हैं तो उसकी राख फेंकने की बजाय आप अपने व्यवसाय स्थल पर छिड़कना शुरू कर दें। इससे नकारात्मक शक्तियां कभी भी नहीं आएंगी।

बड़े बूढ़ों के द्वारा हमेशा यह कहा जाता है कि नजर उतारने के लिए तेल या नमक की मदद से और राख की मदद से नजर उतारे। इसे जल्दी नजर उतरती है। इसके साथ ही वास्तु शास्त्र में कहा गया है कि घर के सदस्यों को नजर से बचाने के लिए हवन की राख का टीका उन्हें लगाना चाहिए। इससे बुरी नजर से बचा जा सकता है।

अगर धन की समस्या आ रही है या फिर घर में बरकत नहीं रहती है तो हवन की राख को संभालकर रखना चाहिए। जब हवन हो रहा है उसके बाद जो राख बचती है उसको ठंडा कर एक लाल कपड़े में बांधना कर अलमारी में रख ले। ऐसा करने से बरकत बनी रहेगी और धन समस्या भी दूर होगी।

डिस्क्लेमर – इस लेख में दी गई सूचनाएं सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है। एमपी ब्रेकिंग इनकी पुष्टि नहीं करता है। किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ की सलाह लें।