Nag Panchami 2022 : बहुत चमत्कारी है नागलवाड़ी शिखरधाम भीलटदेव मंदिर, लगा निमाड़ का सबसे बड़ा मेला

इस साल नाग पंचमी (Nag Panchami 2022) 2 अगस्‍त 2022, मंगलवार के दिन मनाई जाएगी। इस दिन नाग देवता की पूजा करने और उन्‍हें दूध अर्पित करने का काफी ज्यादा महत्व माना गया है।

Nag Panchami 2022

धर्म डेस्क रिपोर्ट। इस साल नाग पंचमी (Nag Panchami 2022) 2 अगस्‍त 2022, मंगलवार के दिन मनाई जाएगी। इस दिन नाग देवता की पूजा करने और उन्‍हें दूध अर्पित करने का काफी ज्यादा महत्व माना गया है। खास बात ये है कि इस बार करीब 10 साल बाद नागपंचमी का त्यौहार मंगलवार के दिन आ रहा हैं। ऐसे में ये बेहद खास होने वाला है।

दरअसल, नाग पंचमी का दिन नागों को प्रसन्‍न करने के लिए सबसे अच्छा और खास दिन माना जाता है। इस दिन नाग देवता की विधि विधान से पूजा की जाती है। बता दे, इस बार पूजा का मुहूर्त 2 अगस्‍त की सुबह 06:05 से 08:41 बजे तक करीब ढाई घंटे तक ही रहेगा।

आज हम आपको निमाड़ के एक सबसे चमत्कारी मंदिर के बारे में बताने जा रहे हैं। इस मंदिर में इस साल निमाड़ का सबसे बड़ा मेला लगा है। ये मंदिर लाखों भक्तों की आस्था का प्रतीक है। दूर दूर से भक्त दर्शन करने के लिए आते हैं। हम बात कर रहे हैं नागलवाड़ी शिखरधाम भीलटदेव मंदिर की। यहां हर साल निमाड़ का सबसे बड़ा मेला लगता हैं। इस साल ये मेला 30 जुलाई से शुरू हो चुका है जो कि 3 अगस्त तक चलेगा।

चमत्कारी है यह मंदिर –

जानकारी के मुताबिक, सतपुड़ा की सबसे ऊंची पहाड़ी पर बना ये मंदिर करीब 860 साल पुराना है। यहां हर साल मेला लगता आ रहा हैं। लेकिन हर साल इस मेले का स्वरुप बड़ा होता जा रहा हैं। इस मंदिर को काफी ज्यादा चमत्कारी माना जाता हैं।

Must read : Sawan Somvar : तीसरे सावन सोमवार पर विशेष योग, राजधानी के मंदिर में 100 देशों की मुद्रा से सजे भोलेनाथ

यहां दूर- दूर से यानी मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, गुजरात, राजस्थान, छत्तीसगढ़ सहित अन्य प्रदेशों से भक्त दर्शन करने के लिए आते हैं। अनुमान लगाया जा रहा है कि नागपंचमी के दिन इस बार यहां करीब 6 लाख से ज्यादा भक्त आ सकते है।

इस मंदिर के समिति के अध्यक्ष दिनेश यादव द्वारा बताया गया है कि समुद्री तल से इस मंदिर की पहाड़ी की ऊंचाई करीब 2200 फीट ऊंची है। ये मंदिर सुन्दर प्राकृतिक वातावरण में बना हुआ है। इस मंदिर का 2015 में जीर्णोद्वार हुआ है। यहां लाखों भक्त आते हैं। ये मंदिर बहुत चमत्कारी है। यहां भक्तों की हर मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं।

इस साल 2000 सेवादार देंगे सेवाएं –

विभिन्ना गांवों के करीब 2000 सेवादार इस मेले में इस बार अपनी सेवाएं देने वाले हैं। ये मेला 3 अगस्त तक चलेगा। इस मेले में सबसे खास दिन 2 अगस्त का है क्योंकि इस दिन नाग पंचमी है। यहां 2 अगस्त के दिन भक्तो की काफी ज्यादा भीड़ देखने को मिलेगी। खास बात ये है कि इस साल खास योग आ रहा है क्योंकि करीब 10 साल बाद इस बार नाग पंचमी का त्यौहार मंगलवार के दिन आ रहा हैं। जो बेहद खास होने वाला हैं।