सकट चौथ कल, बन रहे हैं दुर्लभ संयोग, इन राशियों पर मेहरबान होंगे भगवान गणेश, खुलेगा बंद किस्मत का ताला

10 जनवरी 2023 को सकट चौथ मनाया जाएगा। इस साल कई शुभ संयोग बन रहे हैं। जिसके कारण कई राशियों के लिए कल का दिन बहुत शुभ होगा।

Sakat Chauth 2023: हिन्दू मान्यताओं के अनुसार सकट चौथ का बेहद की खास महत्व होता है। यह इस भगवान गणेश की पूजा विधि-विधान के साथ की जाती है। बता दें की माघ माह के कृष्ण पक्ष में पड़ने वाली चतुर्थी तिथि को हर साल सकट चौथ का व्रत रखा जाता है। कल यानि 10 जनवरी को तीन शुभ योग में यह व्रत रखा जाएगा। स्वार्थ सिद्धि, तकप्रीति और आयुष्मान योग बन रहे हैं। साथ ही इस सप्ताह कई ग्रहों की चाल बदलने वाली है। जिसका असर कई राशियों पर होगा। किसी के लिए यह दिन शुभ रहेगा तो किसी के लिए अशुभ। ग्रहों की चाल और शुभ योग के कारण सकट चौथ के दिन कुछ राशियों को भगवान गणेश मेहरबान रहेंगे।

वृष राशि

इस साल का सकट चौथ वृष राशि के लिए बेहद ही शुभ होगा। धन प्राप्ति के योग बन रहें हैं। गणपति बप्पा का विशेष आशीर्वाद बना रहेगा। नौकरी के नए अवसर मिल सकते हैं। इनकम में भी वृद्धि होने की संभावना है। हालांकि की जिम्मेदरियों का बोझ बढ़ सकता है। कार्यक्षेत्र में सम्मान मिलेगा, प्रोमोशन भी हो सकता है।

कर्क राशि

कर्क राशि के लिए कल का दिन बेहद खास होगा। नौकरी या कार्यक्षेत्र में बदलाव हो सकते हैं। मन में शांति और श्रद्धा भाव से भगवान गणेश की पूजा करने से लाभ होगा। संतान शुभ में वृद्धि होगी। अफसरों का सहयोग भी मिल सकता है।

सिंह राशि

सिंह राशि के लिए भी सकट चौथ का दिन बहुत शुभ होगा। छात्रों की पढ़ाई में रुचि बढ़ेगी। धन लाभ और भवन सुख के विस्तार के योग भी बन रहे हैं। संतान शुख मिल सकता है। नौकरी में तरक्की होगी। धार्मिक कार्यों इ तरफ रुझान बढ़ेगा।

मकर राशि

मकर राशि के लिए भी कल का दिन बहुत लाभकारी होगा। धन प्राप्ति के योग बन रहे हैं। सैलरी में वृद्धि हो सकती है। इनकम में भी इजाफा हो सकता है। परिवार का शुभ मिलएफा। नौकरी की तलाश करने वालों को सफलता मिलेगी। नए वाहन खरीद सकते हैं। संपत्ति का विस्तार होगा।

धनु राशि

धनु राशि के लिए भी सकत चौथ का व्रत का खास रहेगा। परिवार में शुभ शांति बनी रहेगी। मन शांति होगी। आत्मविश्वास में वृद्धि होगी। नौकरी के नए अवसर मिलेंगे। धन लाभ होने के योग बन रहे हैं ।

Disclaimer: इस खबर का उद्देश्य केवल जानकारी साझा करना है। यह मान्यताओं पर आधारित है। विशेषज्ञों की सलाह जरूर लें।