Sawan 2022 : सावन सोमवार के दिन शिवालयों में उमड़ी भक्तों की भीड़, इन मंदिरों में सजाया जाएगा फूल बंगला

सावन (Sawan 2022) का आज पहला सोमवार है। ऐसे में आज के दिन सभी बड़े छोटे शिवालयों में भक्तों की भीड़ देखने को मिल रही है। वहीं आज सुबह से ही मध्यप्रदेश के कई जिलों में जोरदार वर्षा हो रही है।

sawan 2022

सावन (Sawan 2022) का आज पहला सोमवार है। ऐसे में आज के दिन सभी बड़े छोटे शिवालयों में भक्तों की भीड़ देखने को मिल रही है। वहीं आज सुबह से ही मध्यप्रदेश के कई जिलों में जोरदार वर्षा हो रही है। उसके बाद भी शिव मंदिरों में भक्तों का तांता लगा हुआ देखने को मिल रहा है। बता दे, राजधानी में श्री बड़वाले महादेव, गुफा मंदिर, श्री मुक्तेश्वर महाराज मंदिर छोला, श्री पिपलेश्वर मंदिर कोटरा गांव, मां पहाड़ा वाली मंदिर कोलार नयापुरा, श्री पशुपतिनाथ मंदिर गोविंदपुरा, शाहपुरा शिव मंदिर के साथ ही अन्य शिव मंदिरों में आज भक्तों द्वारा शिवजी का जलाभिषेक किया जा रहा है।

Must Read : Sawan Somwar : सावन का पहला सोमवार आज, बन रहे ये 3 शुभ योग, जानें शुभ मुहूर्त

भारी भीड़ शिवालयों में शिव जी के दर्शन के लिए उमड़ी हुई है। आज सावन के पहले सोमवार के दिन सुबह 6:00 बजे से ही बम बम भोले का जयकारा लगाते हुए भक्त मंदिरों में शिव जी के दर्शन करने पहुंचे। दरअसल कोरोना महामारी के 2 साल बाद इस बार सभी जगह भगवान के दर्शन के लिए काफी ज्यादा भीड़ देखने को मिल रही है। हर छोटे-बड़े मंदिरों में भक्त दर्शन के लिए जा रहे हैं।

आज कई मंदिरों में सजाया गया फूल बंगला –

आज सावन सोमवार के पहले दिन कई मंदिरों में फूल बंगला सजाया गया है। बता दे, श्री बड़वाले महादेव मंदिर सेवा समिति एवं ट्रस्ट द्वारा भी आज बाबा बटेश्वर को फूलों के बंगले में विराजमान किया जाएगा। इसको लेकर मंदिर समिति के संजय अग्रवाल एवं प्रमोद नेमा ने जानकारी देते हुए कहा कि श्रावण मास के पहले सोमवार को सुबह से ही रुद्राभिषेक पंचामृत पूजन और शाम को मोगरा, सेवंती के साथ गुलाब के फूलों से बंगला बनाया जाएगा उसके बाद उसमें बाबा बटेश्वर को विराजमान किया जाएगा। आज मंदिर में सुबह से ही भक्तों की भीड़ देखने को मिल रही है। ऐसे में सभी भक्तों को पौधे भी बांटे जाएंगे।

गुफा मंदिर में होगा रुद्राभिषेक –

जानकारी के मुताबिक, सावन के पहले सोमवार के दिन कई मंदिरों में रुद्राभिषेक किया जा रहा है। ऐसे में गुफा मंदिर में सुबह प्रातः काल से पुजारियों द्वारा वैदिक ब्राह्मणों द्वारा रुद्राभिषेक, शिवमहिमन स्तोत्र, शिव तांडव स्तोत्र, रूदाष्टकम आदि पाठ किया जा रहा है। वहीं आज फूल पत्र विल्वपत्र धतुरा आदि सामग्रियों से भव्य श्रृंगार भोलेनाथ का किया जाएगा।