special-dates-of-marriage-for-hindu-couple

भोपाल। वर को सूर्य, चन्द्र एवं वधु को बृहस्पति एवं चन्द्र बल देखकर शादियों की तारीख निकाली जाती है। मकर संक्रांति के बाद शुभ विवाह की तारीखें शुरू हो जायेगी। मां चामुण्डा दरबार के पुजारी गुरु पंडित रामजीवन दुबे एवं ज्योतिषाचार्य श्री विनोद रावत ने बताया कि 17 जनवरी से विवाह के शुभ लग्न शुरू हो जाएंगे।

नववर्ष में शुभ विवाह की तिथियां

जनवरी-17,18,22,23,24,25,26,27,28,29,30,31= 12 दिन

फरवरी- 1,8,9,10,13,14,15= 7 दिन

10 फरवरी को बसंत पंचमी शादी का अबूझ मुहूर्त रहेगा। कुंभ का शाही स्नान रहेगा।

मार्च-2,3,7,8,9,12,13,14=8 दिन

खरमास मीन के सूर्य 15 मार्च 14 अप्रैल तक शादी बंद रहेगी।

अप्रैल- 15,16,17,18,19,20,21,22,23,24,25,26=12 दिन

मई-1,2,6,7,8,12,14,15,17,18,19,20,21,23,28,29,30=17 दिन सर्वाधिक शादियां होगी।

7 मई अक्षय तृतीया शादी का अबूझ मुहूर्त रहेगा।

जून-4,8,9,10,11,12,13,15,17,19,20,24,25,26,30=15 दिन

जुलाई-5,6,7,8,9,10,11=7 दिन

10 जुलाई भड़ली नवमी शादी का अबूझ मुहूर्त रहेगा।

12 जुलाई देवशयनी एकादशी से 8 नव बर देवउठनी एकादशी तक चर्तुमास में शादियां बंद रहेगी। तुला के सूर्य होने के कारण 6 नव बर भड़ली नवमी एवं 8 नव बर देवउठनी एकादशी शादी का अबूझ मुहूर्त होने के बाद भी शादियां नहीं होगी।

नवंबर-19,20,21,22,23,24,26,28,30=9 दिन

दिसंबर-5,6,7,11,12=5 दिन गूंजेगी शहनाई।