Navratri 2022 : पूजा में जरूर इस्तेमाल करें वास्तु के अनुसार ये चीजें, जल्द प्रसन्न होगी मां दुर्गा

हिंदू धर्म में नवरात्रि (Navratri) का काफी ज्यादा महत्व माना जाता है। नवरात्रि का त्यौहार काफी पवित्र और महत्वपूर्ण होता है। जैसा कि आप सभी जानते हैं एक साल में चार नवरात्रि आती है।

navratri 2022

धर्म, डेस्क रिपोर्ट। हिंदू धर्म में नवरात्रि (Navratri) का काफी ज्यादा महत्व माना जाता है। नवरात्रि का त्यौहार काफी पवित्र और महत्वपूर्ण होता है। जैसा कि आप सभी जानते हैं एक साल में चार नवरात्रि आती है। ऐसे में दो नवरात्रि बड़ी होती है। एक चैत्र नवरात्रि और दूसरी शारदीय नवरात्रि। इस महीने शारदीय नवरात्रि की शुरुआत होने वाली है। आपको बता दें, शारदीय नवरात्रि अश्विन माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से शुरू होती है। यह नवरात्रि 9 दिन की होती है।

ऐसे में 9 दिनों तक मां दुर्गा की अलग-अलग स्वरूपों की पूजा की जाती है। आपको बता दें मां दुर्गा का आशीर्वाद प्राप्त करने के लिए जब भी आप नवरात्रि में उनकी पूजा करें तो कुछ वास्तु टिप्स का ध्यान रखना बेहद जरूरी होता है। आज हम आपको उन्ही वास्तु टिप्स के बारे में बताने जा रहे हैं। क्योंकि अगर आप इन टिप्स को ध्यान में रख कर पूजा करेंगे तो मां दुर्गा जल्द प्रसन्न होगी और पूजा स्वीकार करेगी।

Must Read : बेहतरीन डील्स और डिस्काउंट के साथ आ रही Amazon Great Indian Festival Sale, 900 से ज्यादा नए प्रोडक्ट होंगे लॉन्च

वास्तु शास्त्र के अनुसार अगर आप मां दुर्गा को प्रसन्न करना चाहते हैं और अपनी हर मनोकामना को पूरा करवा कर उनका आशीर्वाद प्राप्त करना चाहते हैं, तो घर में बने पूजा स्थल को वास्तु के अनुसार बनवाना चाहिए। इतना ही नहीं वास्तु के कुछ नियमों को ध्यान में रखते हुए मां की पूजा अर्चना करनी चाहिए। इससे घर में सुख शांति बनी रहने के साथ-साथ धन प्राप्ति का सौभाग्य मिलता है। तो चलिए जानते हैं नवरात्रि में घर पर वास्तु के अनुसार कैसे मां दुर्गा की पूजा करना चाहिए और किन चीजों का ध्यान वास्तु के अनुसार रखना चाहिए।

इन चीजों का ध्यान वास्तु के अनुसार रखना चाहिए –

  • हल्दी और चूने से आप नवरात्रि के 9 दिनों तक घर के मुख्य द्वार पर स्वास्तिक बनाएं। ऐसा करने से नकारात्मक ऊर्जा घर में नहीं आती है। वहीं सकारात्मकता बनी रहती है इसलिए चुने और हल्दी के स्वास्थ्य को बनाने के साथ ही आप आम यहां अशोक के पत्तों की माला भी द्वार पर लगा सकते हैं।
  • वहीं आपको इस बात का भी ध्यान रखना होगा कि नवरात्रि के दौरान मां दुर्गा की मूर्ति किस दिशा में रखना चाहिए। अगर आप नहीं जानते हैं तो आपको बता दें आपको उत्तर और पूरब दिशा में मां की मूर्ति और कलश की स्थापना करना चाहिए। दरअसल इस दिशा में देवताओं का वास होता है। इसलिए ऐसा करने से घर में सकारात्मकता ऊर्जा बनी रहती है।
  • इसके अलावा आप नवरात्रि में मां दुर्गा की प्रतिमा कलश स्थापना के दौरान चंदन की चौकी का उपयोग कर सकते हैं। यह बेहद शुभ माना गया है। ज्योतिष शास्त्र में ऐसा करने से वास्तु दोष से मुक्ति मिलने की बात कही गई है। साथ ही सकारात्मक उर्जा का वास भी घर में होता है।
  • वास्तु के मुताबिक, लाल रंग का इस्तेमाल नवरात्रि में शुभ माना गया है। इस रंग को सत्ता और शक्ति का प्रतीक होता है। ऐसे में आपको नौ दिनों तक लाल रंग के फूल चढ़ाना चाहिए। ऐसा करने से मां प्रसन्न होती है। साथ ही वस्त्र, रोली, चंदन, साड़ी, चुनरी आदि सभी लाल रंग का इस्तेमाल आप कर सकते हैं।