इस साल कजरी तीज पर बन रहा है शुभ संयोग, मिलेगा सौभाग्य का आशीर्वाद, ऐसे करें पूजा

तृतीया तिथि का आरंभ 13 अगस्त, 2022 रात 12:53 बजे से होगा और 14 अगस्त, 2022 रात 10:35 बजे समाप्त हो जाएगा।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। हिन्दू धर्म में कजरी तीज (Kajari Teej) का बहुत महत्व होता है। हाल ही में हरियाली तीज मनाई गई। इस खास अवसर पर महिलायें व्रत रखकर माता पार्वती और भगवान शिव की पूजा करती हैं। साल में 3 प्रकार की तीज मनाई जाती है, जिसमें से एक कजरी तीज है। कजरी तीज भादो कृष्ण पक्ष की तृतीया तिथि पर मनाया जाता है। इस साल कजरी तीज 14 अगस्त को पड़ रहा है। तृतीया तिथि का आरंभ 13 अगस्त, 2022 रात 12:53 बजे से होगा और 14 अगस्त, 2022 रात 10:35 बजे समाप्त हो जाएगा।

यह भी पढ़े… Sarkari Naukari: बीएसएफ में निकली 1312 पदों पर भर्ती, 10वीं पास भी कर सकते हैं आवेदन, यहाँ जानें डिटेल्स

इस दिन महिलायें अपने पति की लंबी आयु की कामना करती है। शृंगार करके के माता पार्वती और भगवान की आराधना करती हैं। इस साल कजरी तीज की उदया तिथि 14 अगस्त है और कई शुभ संयोग बन रहे हैं, इसलिए इस साल कजरी तीज का व्रत रखना शुभ होगा। भगवान शिव और माता पार्वती का आशीर्वाद मिलेगा।

सुख-समृद्दि के लिए पूजन विधि

यदि आप कजरी तीज का व्रत रखने जा रही हैं तो सुबह जल्दी स्नान करके साफ-सुथरे कपड़े पहन लें। स्नान करके माता पार्वती और भगवान शिव की मूर्ति शुद्ध मिट्टी से बनाएं। यदि आप मूर्ति नहीं बना सकते तो आप बाजार से भी खरीदकर ले आयें। पूजा की चौकी पर लाल वस्त्र बिछाकर मूर्तियों कॉ स्थापित करें। अब पूजा की सारी विधि शुरू करें और पति की दीर्घायु की कामना करें। माता पार्वती को सुहाग की 16 समाग्री चढ़ाएं। इस दौरान कजरी तीज की कथा सुनना शुभ माना जाता है। धूप और दीप जलाकर भगवान शिव की आरती करें।

Disclaimer: इस खबर का उद्देश्य केवल शिक्षित करना है। हम इन बातों का दावा नहीं करते। कृपया विशेषज्ञों की सलाह जरूर लें।