विश्व कप विजेता कप्तान कपिल देव को अस्पताल से मिली छुट्टी, फैंस को कहा शुक्रिया

गुरुवार को पूर्व भारतीय कप्तान कपिल देव को दिल का दौरा पड़ा था। जिसके बाद उन्हें दिल्ली के अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वहीं रिपोर्ट के मुताबिक 61 वर्षीय पूर्व भारतीय कप्तान का एंजियोप्लास्टी (Angioplasty) किया गया।

कपिल देव

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। भारत को पहला विश्व कप दिलाने वाले कप्तान कपिल देव (kapil Dev) को रविवार को अस्पताल (hospital) से छुट्टी दे दी गई है। गुरुवार को सीने में दर्द की शिकायत के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहाँ उनकी एंजियोप्लास्टी की गई थी। अस्पताल प्रबंधन का कहना है कि कपिल देव अब ठीक है और जल्दी अपनी दिनचर्या शुरू कर सकते हैं। हालांकि कुछ दिनों तक कपिल देव को अस्पताल प्रबंधन की निगरानी में रेगुलर चेकअप लेना होगा।

जानकारी के मुताबिक गुरुवार को पूर्व भारतीय कप्तान कपिल देव को दिल का दौरा पड़ा था। जिसके बाद उन्हें दिल्ली के अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वहीं रिपोर्ट के मुताबिक 61 वर्षीय पूर्व भारतीय कप्तान का एंजियोप्लास्टी (Angioplasty) किया गया। इधर सोशल मीडिया पर उनके अस्वस्थ होने की जानकारी मिलने के बाद उनके जल्द स्वस्थ होने की दुआएं की जाने लगी है। इसी बीच सफल एंजियोप्लास्टी के बाद कपिल देव ने ट्वीट करते हुए अपने फैंस को शुक्रिया अदा किया है। उन्होंने कहा है कि वह स्वस्थ है और जल्द से जल्द रिकवरी कर रहे हैं।

ज्ञात हो कि एंजियोप्लास्टी (Angioplasty) एक ऐसी प्रक्रिया है जो आमतौर पर धमनियों के संकुचित यह सिकुड़ जाने पर रक्त वाहिका के यंत्र को चौड़ा करने के लिए की जाती है। इस प्रक्रिया में बैलून कैथेटर को संकुचित स्थान में डाला जाता है और उस पर दबाव बनाया जाता है। जिससे अंदर जमा हुई वसा (fats) खत्म होने लगती है और रक्तचाप (blood pressure) सामान्य तरह से काम करने लगता है।

बता दें कि भारत के पूर्व कप्तान और क्रिकेट जगत के बेहतरीन ऑलराउंडर में शुमार कपिल देव (kapil dev) की कप्तानी में भारत ने 1983 में पहली बार वर्ल्ड कप जीता था। कपिल देव ने अपने अंतरराष्ट्रीय करियर में 225 वनडे और 131 टेस्ट (Test) खेले हैं। जहां वनडे (ODI) में उन्होंने 3783 रन बनाए और 253 विकेट झटके। वहीं टेस्ट (Test) में उनके नाम 5248 रन और 434 विकेट भी दर्ज है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here