गृह मंत्रालय करेगा भारतीय टीम के पाकिस्तान जाने का फैसला, खेल मंत्री अनुराग ठाकुर की PCB को दो टूक

भारतीय टीम के एशिया कप खेलने के लिए पकिस्तान जाने की बात पर खेल मंत्री अनुरागठाकुर का बयान सामने आया है।

दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। भारत (India) और पाकिस्तान के बीच अगले साल एशिया कप (Asia Cup) होने वाला है। इस एशिया कप को खेलने के लिए भारत की टीम पाकिस्तान जाएगी या नहीं यह इस वक्त सोशल मीडिया पर सबसे बड़ा मुद्दा बना हुआ है। बीसीसीआई (BCCI) के सेक्रेटरी जय शाह ने भी यह बोल दिया है कि भारतीय टीम मैच खेलने के लिए पाकिस्तान नहीं जाएगी। इसके बाद पाकिस्तान ने भी क्रिकेट वर्ल्ड कप के लिए पाकिस्तान द्वारा भारत यात्रा पर असर देखे जाने की बात कही है। इन सब बातों के बीच अब खेल मंत्री अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) ने 2 शब्दों में यह कह दिया है कि भारतीय खिलाड़ियों की सुरक्षा सबसे ज्यादा अहम है और इस बारे में गृह मंत्रालय ही फैसला लेगा।

खेल मंत्री अनुराग ठाकुर का कहना है कि अगले साल होने वाले एशिया कप के लिए भारतीय टीम पाकिस्तान जाएगी या नहीं इस बारे में फैसला गृह मंत्रालय का ही होगा। उन्हें नहीं लगता कि खिलाड़ियों की सीमा पार जाने की संभावना ज्यादा होगी। वर्ल्ड कप में भाग लेने के लिए पाकिस्तान की टीम के भारत आने की बात पर उन्होंने कहा कि यहां पर सभी का स्वागत है।

 

बीसीसीआई के सेक्रेटरी जय शाह यह साफ कह चुके हैं कि भारतीय टीम एशिया कप खेलने के लिए पाकिस्तान बिल्कुल नहीं जाएगी। जय शाह एशियाई क्रिकेट काउंसिल के चीफ भी हैं और वह यह मैच किसी मध्यस्थ जगह पर करवाना चाहते हैं। जब उन्होंने भारतीय क्रिकेट टीम के पाकिस्तान ना जाने की बात कही इस पर एक्शन देते हुए पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने कहा कि इससे विश्व कप में भी टीम की भागीदारी प्रभावित होने वाली है।

Must Read- मंदसौर पुलिस के हत्थे चढ़ा सिंथेटिक ड्रग तस्कर, 7 लाख से ज्यादा का मादक पदार्थ बरामद

इस मामले में अनुराग ठाकुर का कहना है कि विश्वकप में जितनी भी टीम में क्वालीफाई करेंगी उन सभी का भारत में स्वागत है। पाकिस्तान की टीम पहले भी कई बार भारत आकर खेल में हिस्सा ले चुकी है। भारत को कोई भी आदेश नहीं दे सकता है। सभी देश यहां आएंगे और अच्छा प्रदर्शन करेंगे।

 

भारतीय टीम के पाकिस्तान जाने की बात पर अनुराग ठाकुर का कहना है कि संभावनाएं हमेशा हर जगह होती हैं। कोरोना के लिए किसी ने सोचा नहीं था कि ऐसी महामारी दुनिया में कोहराम मचा देगी। आने वाले समय में कुछ भी हो सकता है लेकिन टीम के वहां जाने की संभावनाएं ज्यादा नहीं है। हमारे लिए खिलाड़ियों की सुरक्षा बहुत महत्वपूर्ण है और गृह मंत्रालय सोच समझकर इस पर फैसला लेगा।