International women’s cricket में मिताली का ‘राज’! एक ही दिन में तोड़े दो धमाकेदार वर्ल्ड रिकॉर्ड, कहा ‘अब भी बाकी है रनों की भूख’

खेल डेस्क। भारतीय महिला वनडे और टेस्ट टीम की कप्तान मिताली राज ने एक ही दिन में दो बड़े रिकॉर्ड अपने नाम किए हैं। इंग्लैंड के खिलाफ शनिवार को तीसरे वनडे मैच में मिताली महिला इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाली पहली महिला बल्लेबाज बन गईं हैं। इसी के साथ ही वे दुनिया में सबसे ज्यादा वनडे मैच जीतने वाली कप्तान भी बन गई हैं।

शनिवार को भारत और इंग्लैंड के बीच खेले गए सीरीज के अंतिम मुकाबले में टीम इंडिया ने शानदार जीत हासिल की। वहीं इस जीत के साथ ही महिला क्रिकेट के इतिहास में सबसे अनुभवी क्रिकेटर्स में से एक और टीम इंडिया की कप्तान मिताली राज ने ऑस्ट्रेलिया की बेलिंडा क्लार्क (83 जीत) को पछाड़ते हुए 84वीं जीत हासिल की।

अभी भी बाकी है रनों की भूख- मिताली

मिताली का कहना है कि- “ऐसा भी समय आया जब विभिन्न कारणों से मुझे लगा कि अब बहुत हो चुका लेकिन कोई ऐसी चीज थी जिससे मैं खेलती रही और अब मुझे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 22 साल हो गए हैं लेकिन रनों की भूख अब भी कम नहीं हुई हैं। उन्होंने कहा, मेरे अंदर अब भी वही जुनून है। मैदान पर उतरकर भारत के लिए मैच जीतना। जहां तक मेरी बल्लेबाजी का सवाल है तो मुझे लगता है कि इसमें अब भी सुधार की संभावना है और इस पर मैं काम कर रही हूं। कुछ ऐसे आयाम हैं जिन्हें मैं अपनी बल्लेबाजी में जोड़ना चाहती हूं।

मुझे और टीम की अन्य युवा लड़कियों को फायदा मिलता है। इससे जब आप क्रीज पर होते हैं तो टीम को आगे बढ़ाने में मदद मिलती है। मिताली ने ऑलराउंडर स्नेह राणा की भी प्रशंसा की जिनके साथ उन्होंने सातवें विकेट के लिए 50 रन की महत्वपूर्ण साझेदारी की। उन्होंने कहा, स्नेह राणा को श्रेय देना जरूरी है क्योंकि वह साझेदारी महत्वपूर्ण थी। निश्चित तौर पर हम उस स्थान पर ऐसा खिलाड़ी चाहते थे जो लंबे शॉट खेल सकें और गेंदबाजी में कुछ ओवर भी कर सकें। इसलिए उनका टीम में होना अच्छा है।”

इंग्लैंड के खिलाफ ओवरऑल सीरीज में भारत का दावा बरकरार

इंग्लैंड की टीम ने 3 में से 2 वनडे जीते। ओवरऑल तीनों फॉर्मेट को मिलाकर चल रही सीरीज में इंग्लैंड की बढ़त 6-4 पॉइंट की है। टेस्ट मैच ड्रॉ होने से दोनों टीमों को 2-2 पॉइंट मिले थे। दो वनडे मैच जीतकर इंग्लैंड ने 4 पॉइंट और हासिल किए। 1 वनडे में जीत से भारत ने 2 पॉइंट और हासिल किए। अब ओवरऑल सीरीज की विजेता टीम का फैसला 3 टी-20 मैचों से होगा।