Commonwealth Games 2022 : मोहम्मद हसमुद्दीन ने कॉमनवेल्थ गेम्स में जीता दूसरा ब्रॉन्ज मेडल

इस मुकाबले में उन्होंने कड़ी टक्कर दी लेकिन अंत में फैसला 4-1 से घाना के मुक्केबाज के पक्ष में गया।

खेल, डेस्क रिपोर्ट। पूरे टूर्नामेंट में मोहम्मद हसमुद्दीन ने अपने दमदार मुक्कों से सभी को प्रभावित किया, लेकिन सेमीफाइनल मुकाबले में भारतीय मुक्केबाज को घाना के जोसेफ कॉमे के खिलाफ अपने 57 किग्रा फेदरवेट में हार का सामना कर ब्रॉन्ज मेडल से संतोष करना पड़ा। इससे पहले हसमुद्दीन ने बिना कोई बाउट गंवाए सेमीफाइनल तक का सफर तय किया था। इस मुकाबले में उन्होंने कड़ी टक्कर दी लेकिन अंत में फैसला 4-1 से घाना के मुक्केबाज के पक्ष में गया।

हसमुद्दीन ने राउंड ऑफ 16 मुकाबले में बांग्लादेश के मोहम्मद सलिन हुसैन को 5-0 के सर्वसम्मति फैसले से मात देकर अपने अभियान की जोरदार शुरुआत की थी। इसके बाद क्वार्टरफाइनल मुकाबले में नामीबिया के ट्रायगैन मॉर्निंग नडेवेलो को मात देकर सेमीफाइनल में जगह बनाई।

बता दे, 28 वर्षीय मोहम्मद हसमुद्दीन का ये कॉमनवेल्थ गेम्स में लगातार दूसरा मेडल है, इससे पहले भी उन्होंने 2018 गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स में ब्रॉन्ज मेडल पर कब्जा जमाया था। हसमुद्दीन ने पहली इंडिया इंटरनेशनल ओपन बॉक्सिंग चैंपियनशिप में भी ब्रॉन्ज मेडल जीता था। उनके पिता और भाइयों, अहतशामुद्दीन और ऐतसामुद्दीन ने भी अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाजी स्पर्धाओं में भारत का प्रतिनिधित्व किया है।