अब सौरव गांगुली बनेंगे ICC के अध्यक्ष, जय शाह लेंगे इनकी जगह

बीसीसीआई के मौजूदा सचिव जय शाह के अध्यक्ष और अरुण धूमल के सचिव बनने की संभावना है।

Sourav Ganguly

नई दिल्ली,डेस्क रिपोर्ट। BCCI के अध्यक्ष (President of BCCI) सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) नवंबर में अपना पद छोड़ देंगे और ICC के अध्यक्ष बन जाएंगे। इधर BCCI के सेक्रेटरी (Secretary of BCCI) जय शाह (Jay Shah) प्रमोट होकर BCCI के प्रेसिडेंट बन जाएंगे। ऐसा मीडिया खबरों का दावा है।

सूत्रों ने बताया है कि बीसीसीआई के शीर्ष पद के अधिकारी गांगुली का समर्थन कर रहे हैं। अगर गांगुली ICC का वोट हासिल करने में कामयाब हो जाते हैं, तो वह बीसीसीआई की सीट खाली कर देंगे। इसके बाद बीसीसीआई के मौजूदा सचिव जय शाह के अध्यक्ष और अरुण धूमल के सचिव बनने की संभावना है।

गौरतलब है कि ICC के मौजूदा अध्यक्ष ग्रेगर बार्कले का कार्यकाल नवंबर में खत्म हो रहा है। अगर वह दूसरे 2 साल के कार्यकाल की मांग के बिना अपना पद छोड़ देते हैं, तो ICC को नया चेयरमैन मिलेगा। हालांकि बर्मिंघम में आईसीसी सालाना कॉन्फ्रेंस के बाद बार्कले ने कहा था, ‘हां, मेरा कार्यकाल नवंबर में खत्म हो रहा है। इसलिए मैं 2 और साल के कार्यकाल के लिए योग्य हूं और अगर सदस्य चाहें तो मैं फिर से चुनाव के लिए उपलब्ध हूं।’

ICC के 16 बोर्ड सदस्य मिलकर अपना अध्यक्ष चुनते हैं। इसमें 12 टेस्ट खेलने वाले देश हैं। पहले जान लेते हैं वो देश कौन-कौन से हैं?

भारत, पाकिस्तान, साउथ अफ्रीका, बांग्लादेश, इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया, वेस्टइंडीज, श्रीलंका, जिम्बाब्वे, न्यूजीलैंड, अफगानिस्तान, आयरलैंड

– इन 12 देशों के एक-एक वोट के साथ तीन सहयोगी देश मलेशिया, स्कॉटलैंड और सिंगापुर के 3 वोट होते हैं।

– 1 वोट ICC की स्वतंत्र निदेशक का होता है जो इस समय पेप्सिको की इंदिरा नुई हैं।

– इसमें से 9 या फिर 51 फीसदी वोट जिस उम्मीदवार को मिल जाता है, वह ICC का नया प्रेसिडेंट होता है।

– इससे पहले, अध्यक्ष चुनने के लिए दो तिहाई बहुमत की जरूरत होती थी, लेकिन हाल के प्रस्ताव में इसमें बदलाव किया गया है। बता दें कि ICC में बीसीसीआई की बेहद मजबूत स्थिति है क्योंकि बीसीसीआई दुनिया का सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड है। ऐसे में गांगुली के ICC अध्यक्ष बनने के ज्यादा चांस हैं।

बता दें कि जय शाह और सौरव गांगुली का BCCI में रहते हुए 6 साल पूरे होने वाले हैं, मगर सुप्रीम कोर्ट ने दोनों के कार्यकाल को बढ़ाने के लिए BCCI के संविधान में संशोधन करने की इजाजत दी है।