बीसीसीआई की दो टूक: एशिया-11 टीम का हिस्सा नहीं होंगे पाक क्रिकेटर

नई दिल्ली। खराब राजनयिक रिश्तों के बीच भारत और पाकिस्तान के खिलाडिय़ों को साथ खेलते देखने की संभावना फिलहाल नहीं है। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड बीसीसीआई ने साफ कर दिया है कि भारत और पाकिस्तान के खिलाड़ी अगले साल एशिया-11 टीम में एक साथ नहीं खेलेंगे। मार्च 2020 में बांग्लादेश की मेजबानी में एशिया-11 और वल्र्ड-11 के बीच दो टी20 मैच खेले जाने हैं। बीसीसीआई के सचिव जयेश जॉर्ज ने कहा कि साफ संदेश है कि पाकिस्तान के किसी भी क्रिकेटर को एशिया-11 टीम का हिस्सा बनने के लिए बुलाया नहीं जाएगा। बीसीसीआई चीफ सौरभ गांगुली यह तय करेंगे कि भारत के कौन से पांच खिलाड़ी इस टीम का हिस्सा बनेंगे। हालांकि गांगुली ने पहले कहा था कि यह मुकाबला एशिया-11 बनाम वल्र्ड-11 है और इसके लिए आईसीसी की ओर से स्वीकार्यता चाहिए होगी। बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड शेख मुजीब उर रहमान, बांग्लादेश के फाउंडर की जन्मशताब्दी मना रहा है और इसी के चलते उसकी मेजबानी में अगले साल मार्च में दो टी20 मैच खेले जाएंगे। आईसीसी इन मैचों को आधिकारिक स्टेटस इंटरनैशनल देने को तैयार भी हो गया है। ये दोनों मैच 18 से 22 मार्च, 2020 के बीच खेले जाने हैं।

विराट, धोनी बन सकते हैं हिस्सा

पहले रिपोर्ट आई थी कि बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड ने टीम इंडिया के कैप्टन विराट कोहली, पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी, रोहित शर्मा, पेसर जसप्रीत बुमराह और ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या को एशिया-11 टीम का हिस्सा बनने को कहा था। बीसीबी अध्यक्ष नजमुल हसन ने कहा था, मौजूदा टीम में से बेस्ट खिलाडिय़ों को शामिल करने के बारे में हम सोच रहे हैं, क्योंकि इन मैचों को इंटरनैशनल स्टेटस भी होगा, ऐसे में हर खिलाड़ी इसे गंभीरता से लेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here