राफेल नडाल का धमाकेदार प्रदर्शन जारी, चोटिल होने के बावजूद जीता मैच

इस दौरान स्टैंड्स में बैठे उनके पिता हाथ से इशारा कर उन्हें कोर्ट छोड़ने के लिए कह रहे थे, लेकिन जिद्दी नडाल ने तमाम दर्दों को भुलाकर विम्बलडन टाइटल की तरफ एक और कदम बढ़ा दिया।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। क्ले कोर्ट के बादशाह राफेल नडाल का मौजूदा साल में शानदार प्रदर्शन जारी है। स्पेनिश खिलाड़ी ने यहां विम्बलडन के क्वार्टर-फाइनल मुकाबले में पेट के दर्द से जूझते हुए भी 11वीं वरीयता प्राप्त टेलर फ्रिट्स को हराकर टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया है। इस दौरान स्टैंड्स में बैठे उनके पिता हाथ से इशारा कर उन्हें कोर्ट छोड़ने के लिए कह रहे थे, लेकिन जिद्दी नडाल ने तमाम दर्दों को भुलाकर विम्बलडन टाइटल की तरफ एक और कदम बढ़ा दिया।

दर्द की वजह से संघर्ष करते हुए दिखे नडाल अपना सर्वश्रेष्ठ तो नहीं दे पाए, लेकिन बावजूद इसके उन्होंने 3- 6, 7-5, 3-6, 7-5, 7-6 से जीत दर्ज की। हालांकि, जीत के बाद उन्होंने कहा, “एक क्षण के लिए मुझे लगा कि मैं मैच खत्म नहीं कर सकूंगा।”

ये भी पढ़े … भावनाओं की अनोखी कहानी, भैंस ने की कछुए की मदद, सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वीडियो

इस दौरान नडाल ने 2022 में अपना अपराजेय अभियान जारी रखा है, उन्हें मौजूदा साल में अभी तक कोई हरा नहीं पाया है। उनके नाम लगातार 19 जीत है। उन्होंने इस साल जनवरी में ऑस्ट्रेलियाई ओपन और जून में फ्रेंच ओपन अपने नाम किया है।

बता दे, सेमीफाइनल में उनका सामना ऑस्ट्रेलिया के निक किर्गियोस से होगा, जिन्होंने चिली के क्रिस्टियन गारिन को 6-4, 6-3, 7-6 से मात दी, जबकि दूसरे सेमीफाइनल में नोवाक जोकोविच का मुकाबला कैम नॉरी से होगा।

उधर महिला एकल के सेमीफइनल में 2019 की विम्बलडन चैम्पियन सिमोना हालेप का सामना एलेन राइबाकिना से होगा, जबकि ओंस जबाउर ततयाना मारिया से भिड़ेगी। हालेप ने अमांडा एनिसिमोवा को 6-2, 6- 4 से हराया, जबकि राइबाकिना ने एला टोमजानोविच को 4-6, 6-2, 6- 3 से मात दी।