MP के नाम हुई रणजी ट्रॉफी, बना इतिहास, सीएम शिवराज ने दी बधाई

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट किया -We are the champions

खेल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश की टीम ने रणजी ट्रॉफी चैम्पियनशिप जीतकर इतिहास (MP Ranji Trophy Champion 2022) बना दिया।  मध्य प्रदेश (MP News) के खिलाडियों ने बेहतरीन खेल का प्रदर्शन करते हुए मुंबई की उस टीम को हराया जो 41 बार की चैम्पियन है। मध्य प्रदेश की टीम की जीत पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) ने बधाई दी है। केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी मध्य प्रदेश की टीम को बधाई दी है।

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट किया -We are the champions , उन्होंने लिखा – #RanjiTrophy2022final मैच में अपने अद्भुत और अद्वितीय खेल से मध्य प्रदेश की टीम ने न केवल शानदार जीत प्राप्त की है, बल्कि लोगों का हृदय भी जीत लिया। इस अभूतपूर्व जीत के लिए मध्य प्रदेश की टीम को हार्दिक बधाई देता हूं। आपकी जीत का यह सिलसिला अविराम चलता रहे, शुभकामनाएं!

ये भी पढ़ें – उत्तर प्रदेश उप-चुनाव : बीजेपी ने आजम खान के गढ़ में हासिल की जीत, करीबी घनश्याम सिंह लोधी से मिली मात

उन्होंने लिखा – #RanjiTrophy2022 जीतने वाली पूरी क्रिकेट टीम का मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में भव्य स्वागत व नागरिक अभिनंदन किया जाएगा। क्रिकेट का एक नया इतिहास रचने वाले हमारे क्रिकेट- वीर रणबाकुरों का भव्य स्वागत होगा।

केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी मध्य प्रदेश की टीम को इस ऐतिहासिक जीत पर बधाई दी है।उन्होंने ट्वीट किया – रणजी ट्रॉफी जैसी प्रतिष्ठित स्पर्धा में जीतकर मध्यप्रदेश की टीम ने आज निश्चित ही एक गौरवशाली इतिहास रचा है। सभी खिलाड़ियों को इस महाविजय की बधाई व उज्ज्वल भविष्य के लिए शुभकामनाएं। #RanjiTrophyFinal

 

ये भी पढ़ें – IRCTC : हिमालय की खूबसूरती देखना चाहते हैं? MP से प्रत्येक शुक्रवार जाएगी ये स्पेशल ट्रेन

23 साल बाद पहली बार रणजी ट्रॉफी के फ़ाइनल में पहुंची मध्य प्रदेश की टीम ने पहले ही तीन से शानदार खेल का प्रदर्शन किया और मुंबई की टीम पर हावी रही। मध्य प्रदेश की टीम ने पहली पारी में 536 रन बनाये , इतने बड़े स्कोर का पीछा करते हुए मुंबई की टीम पहली पारी में मध्य प्रदेश की कसी हुई गेंदबाजी के चलते 374 रन ही बना सकी, मुंबई दूसरी पारी में फिर से MP के गेंदबाजों के सामने लड़खड़ा गई और 269 रनों पर सिमट गई फिर जीत के लक्ष्य क पीछा  मध्य प्रदेश की टीम ने 4 विकेट खो कर 108 रन बना लिए और रणजी ट्रॉफी अपने नाम कर ली।