Namibia vs Oman: T20 विश्व कप में 12 साल बाद हुआ सुपर ओवर, जानें अब तक कितनी बार हो चुका ऐसा

पहले बल्लेबाजी करते हुए ओमान ने 109 रनों का लक्ष्य नामीबिया के सामने रखा था। इस दौरान नामीबिया की टीम 109 रन ही बना पाई और मैच सुपर ओवर में चला गया।

Namibia

T20 World Cup Super Over: T20 विश्व कप 2024 का तीसरा मुकाबला ओमान और नामीबिया के बीच खेला गया, जहाँ मैच का नतीजा सुपर ओवर से सामने आया। इस मैच पर नामीबिया ने सुपर ओवर के द्वारा 11 रनों से जीत दर्ज कर ली। वहीं, T20 विश्व कप में 12 साल बाद सुपर ओवर हुआ है। आइए विस्तार से जानते हैं कि T20 विश्व कप में कब और कितनी बार सुपर ओवर हुआ है?

T20 विश्व कप में इतने बार हुआ सुपर ओवर

T20 विश्व कप के इतिहास में आज तक सिर्फ तीन बार सुपर ओवर होने के बाद मैच के नतीजे सामने आए हैं। इस दौरान 2 सुपर ओवर T20 विश्व कप 2012 में और 1 आज यानी सोमवार को T20 विश्व कप 2024 के तीसरे मुकाबले में हुआ है।

2012 में दो बार हुआ सुपर ओवर

पहला सुपर ओवर मैच

T20 विश्व कप के इतिहास का पहला सुपर ओवर मैच T20 विश्व कप 2012 में 27 सितंबर को न्यूजैलंड और श्रीलंका के बीच खेला गया था। आपको बता दें इस मुकाबले में दोनों टीमों बराबर हो गई। मैच में न्यूजीलैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 174 रन बनाए थे। वहीं, 175 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी श्रीलंका की टीम ने भी 174 रन बनाए और मैच में सुपर ओवर में चला गया। सुपर ओवर के दौरान श्रीलंका ने 13 रन बनाए थे। वहीं, 14 रनों के लक्ष्य में न्यूजीलैंड ने महज 7 रन ही बना पाए और मैच हार गए थे।

दूसरा सुपर ओवर मैच

दूसरा सुपर ओवर भी T20 विश्व कप 2012 में ही खेला गया था। यह सुपर ओवर वेस्टइंडीज और न्यूजीलैंड के बीच खेला गया था। दरअसल, पहले बल्लेबाजी करते हुए वेस्टइंडीज की टीम ने 139 रन बनाए थे, जिसका पीछा करने उतरी न्यूजीलैंड की टीम ने भी 139 रन ही बना पाया। वहीं, सुपर ओवर में न्यूजीलैंड ने 18 रन बनाए थे, जहां वेस्टइंडीज ने 19 रन बनाते हुए मैच जीत लिया था।

12 साल बाद हुआ सुपर ओवर

T20 विश्व कप के इतिहास में 12 साल बाद सुपर ओवर मैच हुआ, जोकि T20 विश्व कप में तीसरा विश्व कप मैच था। आपको बता दें T20 विश्व कप 2024 के तीसरे मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए ओमान ने 109 रनों का लक्ष्य नामीबिया के सामने रखा था। इस दौरान नामीबिया की टीम 109 रन ही बना पाई और मैच सुपर ओवर में चला गया। वहीं, सुपर ओवर में नामीबिया ने 21 रन बना और ओमान महज 10 रन ही बना पाई।


About Author
Shashank Baranwal

Shashank Baranwal

पत्रकारिता उन चुनिंदा पेशों में से है जो समाज को सार्थक रूप देने में सक्षम है। पत्रकार जितना ज्यादा अपने काम के प्रति ईमानदार होगा पत्रकारिता उतनी ही ज्यादा प्रखर और प्रभावकारी होगी। पत्रकारिता एक ऐसा क्षेत्र है जिसके जरिये हम मज़लूमों, शोषितों या वो लोग जो हाशिये पर है उनकी आवाज आसानी से उठा सकते हैं। पत्रकार समाज मे उतनी ही अहम भूमिका निभाता है जितना एक साहित्यकार, समाज विचारक। ये तीनों ही पुराने पूर्वाग्रह को तोड़ते हैं और अवचेतन समाज में चेतना जागृत करने का काम करते हैं। मशहूर शायर अकबर इलाहाबादी ने अपने इस शेर में बहुत सही तरीके से पत्रकारिता की भूमिका की बात कही है–खींचो न कमानों को न तलवार निकालो जब तोप मुक़ाबिल हो तो अख़बार निकालोमैं भी एक कलम का सिपाही हूँ और पत्रकारिता से जुड़ा हुआ हूँ। मुझे साहित्य में भी रुचि है । मैं एक समतामूलक समाज बनाने के लिये तत्पर हूँ।