विराट कोहली के चयन को लेकर पैदा हुई असमंजस की स्थिति, बोर्ड जल्द लेगा फैसला

इंग्लैंड दौरे पर टेस्ट में फ्लॉप होने के बाद टी-20 में भी विराट कोहली का बल्ला खामोश ही रहा, खेले गए दो टी-20 मुकाबलों में कोहली मात्र 12 रन ही बना सके जिसमें, दूसरे टी-20 में 1 जबकि तीसरे में 11 रन बनाए।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। अब तक के अपने करियर की सबसे खराब फॉर्म से जूझ रहे पूर्व कप्तान विराट कोहली के चयन को लेकर चयनकर्ताओं के सामने असमंजस की स्थिति बनने लगी है। दरअसल, इंग्लैंड दौरे के बाद भारतीय टीम को तीन वनडे और पांच टी-20 मैचों की सीरीज के लिए कैरीबियन धरती का टूर करना है। यहां खेले जाने वाली वन-डे सीरीज का ऐलान पहले ही हो चुका है, जहां शिखर धवन की अगुवाई में युवा भारतीय टीम मेजबानों का सामना करने वाली है। जबकि पांच टी-20 मैचों की सीरीज के लिए टीम का चयन होना अभी बाकी है। वनडे सीरीज के लिए सीनियर्स खिलाड़ियों को आराम दिया गया है।

अब इस बीच कयास लगाया जा रहा है खराब दौर से गुजर रहे विराट कोहली को यहां टी-20 सीरीज में भी आराम दिया जा सकता है। हालांकि, यह सीरीज अक्टूबर में होने वाले टी-20 वर्ल्ड कप की तैयारियों के लिए अहम मानी जा वहीं बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह साफ कर दिया है कि वह विराट कोहली को लेकर जल्दबाजी में कोई निर्णय नहीं लेने वाले हैं। सूत्रों की माने तो आज टी-20 सीरीज के लिए टीम की घोषणा हो सकती है।

चयन समिति के एक अधिकारी ने कहा, “अगर कोई खिलाड़ी आराम करना चाहता है, तो आप उसे मना नहीं कर सकते। हां, फॉर्म से जूझ रहे खिलाड़ी के लिए यह आदर्श नहीं है। लेकिन हम किसी खिलाड़ी को खेलने के लिए मजबूर नहीं कर सकते अगर वह खेलना नहीं चाहता। लेकिन विराट पर अभी कोई फैसला नहीं हुआ है। हम टीम की घोषणा करने से पहले कप्तान और कोच दोनों के साथ चर्चा करेंगे।”

ये भी पढ़े … किसी आलीशान बंगले से कम नहीं है रणवीर-दीपिका का आशियाना, जानें कीमत, देखें तस्वीरें

इंग्लैंड के खिलाफ भी कोहली का बल्ला रहा खामोश

इंग्लैंड दौरे पर टेस्ट में फ्लॉप होने के बाद टी-20 में भी विराट कोहली का बल्ला खामोश ही रहा, खेले गए दो टी-20 मुकाबलों में कोहली मात्र 12 रन ही बना सके जिसमें, दूसरे टी-20 में 1 जबकि तीसरे में 11 रन बनाए।

कपिल ने भी उठाए सवाल

भारत के पूर्व कप्तान कपिल देव सहित कई अन्य खिलाड़ियों ने कोहली की खराब फॉर्म पर सवाल उठाए हैं। कपिल देव ने कहा, “जब आपके पास ढेर सारे विकल्प हों तो फॉर्म में खिलाड़ी खेलें, लेकिन आप केवल प्रतिष्ठा के आधार पर नहीं जा सकते, बल्कि आपको वर्तमान स्वरूप की तलाश करनी होगी। आप एक स्थापित खिलाड़ी हो सकते हैं लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि आपको मौके दिए जाएंगे, भले ही आप लगातार पांच गेम में असफल हों।”

वेस्टइंडीज दौरे का कार्यक्रम

22 जुलाई पहला वनडे, पोर्ट ऑफ स्पेन
24 जुलाई दूसरा वनडे, पोर्ट ऑफ स्पेन
27 जुलाई, तीसरा वनडे, पोर्ट ऑफ स्पेन

29 जुलाई पहला टी20, पोर्ट ऑफ स्पेन
1 अगस्त दूसरा टी20, सेंट किट्स एवं नेविस
2 अगस्त तीसरा टी20, सेंट किट्स एवं नेविस
6 अगस्त चौथा टी20, फ्लोरिडा
7 अगस्त पांचवां टी20, फ्लोरिडा