स्पीड के मामले में इस इलेक्ट्रिक बाइक ने तोड़ दिए सारे रिकॉर्ड, ₹40,000 की मिल रही सब्सिडी

वह लोग जिन्हें बाइक से प्यार है और जो एक ही बाइक में लग्जरी, स्टाइल और स्टेबलिटी एक साथ चाहते हैं, उनके लिए मार्केट में एक नई इलेक्ट्रिक बाइक लांच हुई है। इस बाइक पर 40000 रुपये की सब्सिडी भी दी जा रही है।

ऑटोमोबाइल, डेस्क रिपोर्ट। Svitch CSR 762 Electric Motorcycle: इलेक्ट्रिक बाइक बनाने वाली कंपनी स्विच (Svitch) मोटोकॉर्प ने भारत में अपनी पहली इलेक्ट्रिक मोटरसाइकिल CSR 762 को लॉन्च कर यहाँ के बाज़ार में कदम रख दिया है। इस बाइक की एक्स-शोरूम कीमत 1.65 लाख रुपए बताई जा रही है और इस पर 40 हजार रुपए की सब्सिडी भी दी जा रही है। खबर है कि 2022 में CSR 762 प्रोजेक्ट में कंपनी 100 करोड़ रुपए का इन्वेस्टमेंट करेगी। गुजरात के एशियाई शेरों से इंस्पायर्ड इस बाइक का डिजाइन देखने में आकर्षक है। वहीँ स्विच CSR 762 इलेक्ट्रिक बाइक पहले इसी साल जुलाई-अगस्त तक लॉन्च होने की उम्मीद थी। ग्लोबल मार्केट में यह बाइक नवंबर 2021 में लॉन्च किया हो चुकी है।

यह भी पढ़ें – Yamaha की इन दो बाइक्स के लोग हुए दीवाने, रोज बिक रही धड़ल्ले से, आखिर क्या है इसमें खास

सिंगल चार्ज पर दमदार रेंज

स्विच CSR 762 इलेक्ट्रिक मोटरसाइकिल सिंगल चार्ज के बाद 110Km तक की रेंज देगी। इस बाइक की टॉप स्पीड 120Km/h है। स्वैप फीचर के साथ इसमें 3.7 kWh लिथियम-ऑयन बैटरी मिलती है। इस बाइक में इंडस्ट्री स्टैंडर्ड CCS (कंबाइंड चार्जिंग सिस्टम) बैटरी चार्जर दिया गया है। एशियाई शेरों से इंस्पायर्ड इस बाइक का डिजाइन पावरफुल स्पोर्ट्स बाइक की तरह शानदार है।

यह भी पढ़ें – Royal Enfield ने की भारत में बनी दो बाइक मलेशिया में की लॉन्च, अब दूसरे देश में भी छाएगा बाइक का जादू

थर्मोसाइफन कूलिंग सिस्टम मिलेगा

CSR 762 में तीन स्टैंडर्ड राइडिंग मोड दिए गए हैं – स्पोर्ट्स, रिवर्स और पार्किंग मोड। बाइक में एक शक्तिशाली 3 kW PMS (परमानेंट मैग्नेट सिंक्रोनस) मोटर का उपयोग किया गया है। साथ ही 5-इंच TFT कलर डिस्प्ले भी दिया गया है। इसके अलावा एक ‘थर्मोसाइफन’ कूलिंग सिस्टम जैसी फैसिलिटी साथ एक सेंट्रल ड्राइव सिस्टम मिलता है, जो ओवरहीटिंग को कम करने में सहायक है। कंपनी ने बाइक की डिजाईन खासतौर पर भारतीय ग्राहकों को ध्यान में रखकर बनाई है। देश भर में 15 से अधिक इलेक्ट्रिक बाइक डीलरशिप शोरूम की डील करके कंपनी ने पहले ही भारत में अपना मार्केट बढ़ाने के लिए कमर कस ली है।