‘शिवराज बेटी बचाओ की बात करते हैं और उनकी पार्टी के पदाधिकारी महिला अफसर से मारपीट’

74

निवाड़ी। मयंक दुबे।

राजगढ़ में कलेक्टर और भाजपा कार्यकर्ताओं में हुई झड़प को लेकर कैबिनेट मंत्री प्रियव्रत सिंह ने निशाना साधा है। उन्होंने पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान पर तंज कसते हुए कहा कि शिवराज बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की बात करते हैं लेकिन उनकी पार्टी के पदाधिकारी महिला अफसर के साथ मारपीट करते हैं। यह बयान उन्होंने निवाड़ी जिले के पृथ्वीपुर में 39 स्व अमर सिंह वालीबाल टूर्नामेंट में शामिल होने आए थे।

प्रदेश के वित्त मंत्री तरुण भनोट ने राजगढ़ में हुई घटना को लेकर शिवराज व अमित शाह पर कटाक्ष किया तो वही महिला अधिकारियों के समर्थन में आकर कहा जिन महिला अधिकारियों के साथ मारपीट  वह भी किसी के घर की बहू बेटी हैं। अब अमित शाह, शिवराज जी क्यों कुछ नहीं कहते। जिसने गलत किया उसकी जांच हो। जिन्होंने महिला अधिकारी के बाल पकड़ कर खींचे हो धारा 144 लगने के वावजूद उसका उल्लंघन किया हो। जान बूझकर कानून व्यवस्था खराब करने के लिए लोगों की भावनाएं भड़काने का काम किया हो।  उन पर भी कार्रवाई होना चाहिए।

राजगढ़ के खिचलीपुर से विधायक व प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह ने भी शिवराज को आड़े हाथ हुए कहा कि एक तरफ शिवराज  बेटी बचाओ की ढींगे हाकने थे और उनकी पार्टी के पदाधिकारी महिला अधिकारी की चोटी खींच रहे है मारपीट कर रहे उन्होंने कहा भाजपा पदाधिकारी ने जो महिला अफसरों के साथ किया है वह निंदनीय है क्या यही भाजपा के संस्कार है राजगढ़ में धारा 144 लगने के बाद भी जबरन यह उपद्रव किया गया।  राजगढ़ विवाद पर कैबिनेट मंत्री सज्जन वर्मा  ने मोदी और शाह को निशाने पर लेते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी व अमित शाह एक ऐसा कानून लेकर आए है उसने राजगढ़ ही नहीं पूरे देश का कोई ऐसा कोना नहीं जहाँ आग न लगाई हो। लेकिन मध्यप्रदेश तो फिर भी इससे महफूज है। अगर कोई संविधान का उल्लंघन करते  हुए उसकी मर्यादाएं तोड़ेगा तो मध्यप्रदेश प्रदेश सरकार सक्षम है संविधान की मर्यदाये तोड़ने वालों के विरुद्ध कार्यवाही करने में प्रशासनिक अधिकारी किसी के गुलाम नही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here