दो फेरे लेने के बाद दुल्हन ने किया शादी से इंकार, वजह जानकर रह जाएंगे हैरान

दुल्हन ने यह कहते हुए शादी करने से मना कर दिया कि दूल्हा बहुत काला है।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। आमतौर पर हम देखते है कि लड़की पक्ष से अंतिम समय पर दहेज की मांग कर लड़के वाले बारात बिना दुल्हन के ही वापस ले जाते है, पर जब से कानून व्यवस्था में इसको लेकर सुधार आया तो धीरे-धीरे ये समाज से बाहर होने की दहलीज पर है, लेकिन अब उत्तर प्रदेश के इटावा से चौंकाने वाला मामला सामने आया है, जहां एक दुल्हन दो फेरे भी ले चुकी थी, तब जाकर उसने एक बहुत ही वाहियात कारण बताकर शादी करने से इंकार कर दिया।

दरअसल, दुल्हन ने यह कहते हुए शादी करने से मना कर दिया कि दूल्हा बहुत काला है।

जानकारी के मुताबिक, गुरुवार को यह घटना इटावा के भरथना में उस वक्त हुई जब दूल्हा रवि यादव दुल्हन नीता यादव से ब्याह रचाने पहुंचा था, लेकिन फेरों के दौरान सब उस समय हक्के-बक्के रह गए, जब दो फेरे लेने के बाद नीतू ने अचानक घोषणा की कि वह शादी तोड़ रही है। दुल्हन तुरंत ही मंडप छोड़ कर चली गई और अपने परिवार के सदस्यों के समझाने पर भी नहीं लौटी।

ये भी पढ़े … नहीं रहे शिंजो आबे, जानलेवा हमले के बाद अस्पताल में ली अंतिम सांस

जब सभी लोग दुल्हन को समझने में नाकाम रहे तब दूल्हा और बारात बिना दुल्हन के ही वापस लौट गए।

इस मामले में दुल्हन ने कहा कि उसे पहले दिखाया गया दूल्हा वह नहीं था, जिससे वह शादी कर रही थी। उसने यह भी कहा कि उसका रंग उसकी पसंद के हिसाब से बहुत काला है।

इस मामले में दूल्हे ने कहा, “लड़की और उसका परिवार मुझसे कई बार मिलने आया था और मुझे नहीं पता कि उन्होंने अचानक अपना मन क्यों बदल लिया। इस घटना ने मुझे बहुत आहत किया है।”

उधर, दूल्हे के पिता ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है कि दुल्हन को उपहार में दिए गए लाखों रुपये के जेवर उन्हें वापस नहीं किए गए।