फसलों के पंजीयन मे गड़बड़ी को लेकर किसान ज़िम्मेदार : बिसेन

जबलपुर।

चुनावी साल मे प्रदेश के किसानो के लिए सौगातों की झडी सी लग गई है। प्रदेश सरकार के साथ अब केन्द्र ने भी 14 किस्म की खरीफ फसलो पर समर्थन मूल्य पर भारी भरकम बढ़ोत्तरी की है। ये बढ़ोत्तरी 200 रूपए से लेकर 1827 रूपए तक की गई है। जबलपुर पहुॅचे प्रदेश के कृषि मंत्री गौरीशंकर बिसेन ने बताया कि किसानो की आये दोगुनी करने के सरकार के संकल्प के मद्देनज़र ये सौगात किसानो के लिए मददगार होगी।

 इन खरीफ फसलो मे कपास(मीडियम एवं लाॅंग) ,बाजरा,मूॅग,मक्का,मूॅगफली,सोयाबीन,उड़द,तुअर,रागी,सूरजमुखी,धान,रामतिल,ज्वार,तिल शामिल है। समर्थन मूल्य मे खरीदी को लेकर उड़द और मूंग के रकबे के पंजीयन मे सामने आई गड़बड़ी मे कृषि मंत्री ने किसानो को ज़िम्मेदार ठहराया । उन्होने कहा कि किसानो ने ही ज्यादा रकबे का पंजीयन करवाया था इसमे पटवारियों की कोई गलती नही थी। वही मंदसौर और सतना मे मासूमो को हवस का शिकार बनाने वाले आरापियो को सख्त से सख्त सजा देने की बिसने ने वकालत की। उन्होने कहा कि ऐसे दरिंदो को समाज मे टिकने और ज़िंदा रहने का कोई हक नही।