Breaking News
किसान आंदोलन की आहट से सरकार की नींद उड़ी, प्रदेश में हाई अलर्ट, पुलिसकर्मियों की छुट्टियां रद्द | अध्यापकों के तबादलों से रोक हटी, आदेश जारी | राहुल गांधी की सभा की अनुमति को लेकर बैकफुट पर प्रशासन, बदली शर्ते | किसान और जनता के घरो में डाका डाल रही सरकार : अजय सिंह | शराब दुकानों को लेकर आमने-सामने हुए दो विभाग | सहकारी बैंक का जीएम 50 हजार की रिश्वत लेते रंगेहाथों धराया | कम नहीं होगा पेट्रोल-डीजल पर वैट : वित्तमंत्री मलैया | VIDEO : मप्र कोटवार संघ की सरकार को चेतावनी- मांगे पूरी नहीं हुई तो कांग्रेस को देंगें समर्थन | VIDEO : बाप को जेल ले जा रही थी पुलिस, बेटियों ने जीप पर चढ़कर किया जमकर हंगामा | एमपी टूरिज्म के रिसॉर्ट में तेंदुए का टेरर..देखिये वीडियो |

पानी की समस्या पर भड़की जनता ने पार्षद और अफसर को बंधक बनाया

जबलपुर| वार्ड में पानी की समस्या और उसका निदान न करना जबलपुर नगर निगम के एक पार्षद को बहुत महंगा पड़ गया | पानी न मिलने से परेशान स्थानीय लोगो ने आज मोतीलाल नेहरु वार्ड के पार्षद और जल विभाग के अधिकारी को दो घंटे तक उनके ही कार्यालय मे बंधक बनाकर रखा | इस दौरान पार्षद ने कई बार आक्रोषित लोगो के हाथ पाँव जोडे पर पानी की समस्या से परेशान लोगो की माँग थी कि जब तक पानी नही मिलेगा तब तक पार्षद को मुक्त नही किया जाऐगा। 

पार्षद को बंधक बनाने की सूचना मिलते ही मौके पर गोहलपुर पुलिस भी आ गई पर आक्रोषित भीड़ के सामने वो भी फीकी पड़ गई। करीब दो घंटे की जदोजहद के बाद जब नगर निगम से आश्वासन मिला तब जाकर लोगो ने पार्षद को मुक्त किया। परेशान लोगो की माने तो टेक्स देने के बाद भी बारह माह इस तरह की समस्या वार्ड मे बनी रहती है पर पार्षद ताहिर अली हर साल आश्वासन देते हैं कि पानी मिलेगा-मिलेगा पर मिलता नही है। वार्ड मे निवास करने वालो का आरोप है कि पीने के लिए भी टेंकर के माध्यम से दूषित पानी सप्लाई किया जा रहा है जबकि मीठे पानी का ये क्षेत्र है। नगर निगम के अधिकारी के साथ करीब दो घंटे तक बंधक बने रहे पार्षद को जब पुलिस की मौजूदगी मे रिहा किया गया तो उन्होने भी माना की वार्ड के लोगो का नराज होना जायज है लिहाजा उन्हे बताया गया है कि तीन दिन मे पानी की हर समस्या का निजात किया जाऐगा।कांग्रेस से पार्षद ताहिर अली ने महापौर और सत्तापक्ष पर आरोप लगाया है कि जानबूझकर नगर निगम हम लोगो के साथ दुव्यर्हार कर रहा है ।नगर निगम औऱ महापौर को कई बार वार्ड मे पानी की समस्या को लेकर बताया गया इतना ही नही सदन मे भी पानी के मुद्दे को उठाया गया पर नतीजा सिफर ही रहा।


  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...