Breaking News
प्रशासन बता रहा 'डेंगू' छुआछूत की बीमारी | किसकी होगी पूरी मुराद, आज महाकाल के दर पर सिंधिया-शिवराज | सड़क पर सियासत : कमलनाथ बोले- बुधनी से अच्छी छिंदवाड़ा की सड़कें, शिवराज जी एक बार जरुर आए | सुल्तानगढ़ वॉटरफॉल हादसा : मौत से संघर्ष के बाद भी कैसे हार गई 9 जिंदगियां, देखें वीडियो | शर्मसार : सागर में नाबालिग से गैंगरेप, बीते दिनों ही मिला था सबसे सुरक्षित शहर का तमगा | कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने लिया विस चुनाव में भाजपा को उखाड़ फेंकने का संकल्प | केंद्रीय मंत्री की बहन को एसिड अटैक और मारने की धमकी | खाना खाने के बाद बिगड़ी तबियत, दो सगी बहनों की मौत, मां की हालत गंभीर | पूर्व राष्ट्रपति शंकर दयाल शर्मा की जन्मशताब्दी मनाएगी सरकार : शिवराज | अस्पताल के बच्चा वार्ड में लगी आग, मची अफरा-तफरी, 35 बच्चे थे भर्ती |

एसपी ने ASI पंचम सिंह गुर्जर को किया निलंबित, चलती बस में छात्रा से की थी छेड़छाड़

शहडोल

मध्यप्रदेश के शहडोल जिले में छात्रा से छेड़छाड़ करने वाले सहायक उप निरीक्षक को निलंबित कर दिया गया है।मामला  सोहागपुर थाने का है।  पंचम सिह गुर्जर ब्यौहारी थाने में पदस्थ सहायक उप निरीक्षक था, जिस पर चलती बस में एमबीबीएस की छात्रा के साथ छेड़छाड़ का आरोप लगा था।आगे की कार्रवाई पंचम को मुरैना से शहडोल लाने के बाद की जाएगी।आरोपी एएसआई के खिलाफ शहडोल जिले में धारा 354 का मुकदमा रजिस्टर्ड है। 


जानकारी के अनुसार, बीते दिनों रीवा मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस की पढ़ाई कर रही शहडोल की एक छात्रा बस से लौट रही थी, तभी ब्यौहारी से पंचम सिंह गुर्जर बस में चढ़ा औऱ छात्रा से छेड़छाड़ करने लगा।इसके बाद छात्रा ने शहडोल पहुंचकर  सोहागपुर थाने में सहायक उपनिरीक्षक पंचम के खिलाफ मामला दर्ज करवाया। मामले की जांच में पाया गया कि पंचम ब्यौहारी थाने में पदस्थ है और वह मुरैना से स्थानांतरित होकर 25 सितंबर 17 को आया था। अधिकांश समय वह मुरैना में ही रहा है। 10 फरवरी को यह न्यायालय में पेशी के लिए ब्यौहारी से बस में शहडोल आया था। उसके बाद ट्रेन से मुरैना चला गया।इसी दौरान उसने छात्रा से छेड़छाड़ की ।पुलिस अधीक्षक सुशांत सक्सेना ने बड़ी कार्रवाई करते हुए पंचम को निलंबित कर दिया है।फिलहाल पुलिस उसे मुरैना से शहडोल लाएगी और फिर आगे की कार्रवाई की जाएगी।


पूर्व में भी दर्ज है प्रकरण

सोहागपुर पुलिस ने बताया कि मुरैना जिले से पता चला है कि पंचम सिंह गुर्जर वर्ष 2016 में भी इसी तरह के अपराध में लिप्त पाया गया था। जिसके विरुद्ध थाना सिविल लाइन जिला मुरैना में धारा 354, 416, 417 और पास्को एक्ट का मामला पंजीबद्व हुआ था। बाद में न्यायालय से वह बरी हो गया।

  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...