Breaking News
कांग्रेसी विधायक ने मर्यादाएं की तार-तार | विधानसभा चुनाव के लिए 'आप' ने जारी की पांचवी लिस्ट, यह होंगे प्रत्याशी | CM की PC: केरल बाढ पीड़ितों को 10 करोड़ की आर्थिक सहायता, अटल जी को लेकर भी कई ऐलान | भितरघात की चिंता: दावेदारों से भरवाए शपथ पत्र, 'टिकट नहीं मिली तो भी पार्टी हित में काम करूंगा' | राहुल गांधी का ऐलान- केरल बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए 1 महीने की सैलरी देंगे कांग्रेस के सांसद-विधायक | MP : इन दो महिला आईएएस के निशाने पर 'भ्रष्ट-लापरवाह' अधिकारी | MR.बैचलर बनकर हाईप्रोफाइल लड़कियों को निशाना बनाता था लुटेरा दूल्हा, 4 राज्यों में थी तलाश | पुलिस को पीटने वाले थाने से ससम्मान विदा, नशे में धुत लड़कियों ने हाईवे पर मचाया था उत्पात | Asian Games 2018 : आज से होगा एशियन गेम्स का रंगारंग आगाज, इतिहास रचने को तैयार भारत | दो सांसदों की चिट्ठी के बीच अटकी शिप्रा एक्सप्रेस! |

कांग्रेस नेता ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, पुलिस पर लगे प्रताड़ना के आरोप

श्योपुर।

मध्य प्रदेश के श्योपुर जिले में एक कांग्रेस नेता ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली है।मामला विजयपुर तहसील के आरौदा गांव का है। नेता के पास से पुलिस को एक उ सुसाइड नोट मिला है, जिसमें उन्होंने पुलिस पर रिश्वत के आरोप लगाए है और लिखा है कि 6 नवंबर 2016 को जो केस दर्ज किया गया है वह फर्जी है। इस केस के कारण उस पर 15 लाख रुपए का कर्ज हो चुका है। इस केस के कारण मैं सदमे में हूं और अब कुछ नहीं सूझ रहा। प्रशासन इस फर्जी केस के जिम्मेदारों पर कार्रवाई करे। घटना के बाद से ही पूरे इलाके में हड़कंप मच गया है।किसानों और नेताओं में पुलिस के प्रति भारी आक्रोश है। बताया जा रहा है कि कांग्रेस नेता पेशे से किसान था ।पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी है।

बता दे कि श्रीकृष्ण एक बार गांव का सरपंच, कॉपरेट बैंक अध्यक्ष और दो बार जनपद सदस्य रह चुका है। कांग्रेस में भी वह ब्लॉक समिति का पदाधिकारी रहा है। 

जानकारी के अनुसार, विजयपुर तहसील के आरौदा गांव में पेशे से किसान एक कांग्रेस नेता श्रीकृष्ण कुशवाह ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।  परिजनों का आरोप है कि वर्ष 2016 में सिंचाई समिति के चुनाव के दौरान विजयपुर पुलिस ने पूरे परिवार को पहले तो झूठे केस में फंसा दिया था ।इसके बाद मामले के निपटारे के लिए वह श्रीकृष्ण पर दो लाख रुपए के लिए उसे रोजाना प्रताड़ित कर रही थी। सोमवार को इसी प्रकरण को लेकर कोर्ट में तारीख थी, लेकिन तारीख पर जाने से पहले किसान ने आत्महत्या कर ली।आरोद गांव निवासी श्रीकृष्ण पुत्र मोती कुशवाह का शव उनके कमरे में सोमवर सुबह फांसी के फंदे पर लटका हुआ मिला। फांसी पर शव लटका मिलने की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची तो मौके पर जांच पड़ताल के बाद उसका पीएम कराया और कमरे की तलाशी ली गई। 

वही इस पूरे मामले पर पुलिस महकमे पर सवाल उठने लगे है।हालांकि पुलिस के अधिकारियों द्वारा सफाई दी जा रही है कि सुसाइड नोट में पुलिस पर जो आरोप लगे हैं उसकी जांच उच्च अधिकारी द्वारा की जाएगी। 


  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...