बारिश से बेहाल मध्य प्रदेश, उफनती बेतवा में फंसे 20 लोग, घंटों रेस्क्यू कर निकाला

टीकमगढ़

मानसून की शुरुआती बेरुखी के बाद मध्य प्रदेश में इन दिनों बादल जमकर बरस रहे हैं। भारी बारिश से जहां तामपान में कमी आई है तो वहीं कई इलाकों में नदियां उफान पर भी आ गई हैं जिससे जनजीवन प्रभावित हो रहा है। प्रदेशभर में बारिश का दौर पिछले दो दिनों से लगातार जारी है।जगह जगह सड़को में जल भराव से लोंगो को आवागमन में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। वही कई जगहों पर हालात बाढ़ जैसे हो चले है। प्रशासन ने कई जगह रेड अलर्ट घोषित किया हुआ है। ताजा मामला टीकमगढ़ से सामने आया है, जहां शनिवार को उफनती बेतवा नदी में बाढ़ के दौरान 20  फंस गए।खबर मिलते ही प्रशासन अलर्ट हुआ और रेस्क्यू कर नाव और मोटरसाइकल की मदद से बाढ़ में फंसे लोगों को सुरक्षित निकाला।

       बताया जा रहा है ओरछा के पास वन क्षेत्र में कस्बे की एक भजन मंडली के बीस सदस्य शनिवार सुबह पिकनिक मनाने के लिये यहां आए हुए थे, तभी बेतवा नदी में पानी का बहाव तेज होने से नदी के बीच टापू पर ये सभी लोग फंस गये।फिलहाल सभी को सुरक्षित निकाल लिया गया है। अब किसी भी व्यक्ति के फंसे होने की खबर नही है, प्रशासन ने ये स्पष्ट कर दिया है। फिर भी प्रशासन अलर्ट हो गया है, अगर ऐसी कोई सूचना आती है तो तुरंत रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जाएगा और लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला जाएगा।

 बता दे कि तेज बारिश के कारण ओरछा में बेतवा नदी और जामनी नदी उफान पर आ गई हैं। वहां दोनों नदियों के पुलों के ऊपर पानी बह रहा है। बाढ़ के कारण लोग रास्ता भटक जाते हैं और अन्य रास्ते पर जाने की आशंका रहती है।मौसम वैज्ञानिकों की माने तो ग्वालियर, चंबल, सागर, शहडोल, रीवा संभागों में 48 घंटे भारी बारिश का अलर्ट है, जबकि उज्जैन, इंदौर, भोपाल, जबलपुर अौर होशंगाबाद संभागों में तेज बारिश के आसार हैं।


"To get the latest news update download tha app"