टाटा मोटर्स ने हटाया भारत की पहली टर्बो-पेट्रोल सीएनजी SUV से पर्दा, जल्द होगी भारत में लॉन्च, जानें खास बातें

Tata Nexon iCNG का ग्लोबल डेब्यू हो चुका है। एसयूवी जल्द ही भारत में लॉन्च हो सकती है। आइए जानें कार खास क्यों है?

Manisha Kumari Pandey
Published on -
Tata Nexon iCNG

Tata Nexon iCNG: भारत मोबिलिटी एक्सपो 2024 इवेंट में टाटा मोटर्स ने देश की पहली टर्बो चार्जड पेट्रोल इंजन सीएनजी एसयूवी “टाटा नेक्सॉन iCNG” के कॉन्सेप्ट का खुलासा कर दिया है। यह ट्विन सिलेंडर टेक्नोलॉजी से लैस। बड़े सिंगल यूनिट के स्थान पर दो छोटे 30 लीटर के सिलेंडर इसमें जोड़ गए हैं।

पावरट्रेन

लगेज स्पेस भी काफी ज्यादा है। यह 230 लीटर बूट स्पेस के साथ आ सकती है। एसयूवी 1.2 लीटर 3 सिलेंडर इंजन से लैस है, जो 108 बीएचपी पावर और 170Nm पिक टॉर्क जनरेट करने में सक्षम है। साथ में 5 स्पीड मैनुअल और एएमटी यूनिट मिलता है। बता दें कि टाटा मोटर्स कि टियागो और टिगोर भारत की पहली सीएनजी ऑटोमेटिक सीएनजी कार है।

Tata Nexon iCNG

टाटा की इन कारों से भी हटा पर्दा

कंपनी ने टाटा नेक्सॉन डार्क एडिशन, सफारी डार्क, अल्ट्रोज रेसर कांसेप्ट का खुलासा भारत मोबिलिटी शो में कर दिया है। टाटा पंच ईवी को हाल ही में लॉन्च किया गया था।

Tata Nexon iCNG

फीचर्स

एसयूवी को डायरेक्ट सीएनजी मोड में स्विच किया जा सकता है। सुविधा के लिए फ्यूल के बीच में ऑटो स्विच दिया गया है। यह NGV1 यूनिवर्सल टाइप नोजल के साथ आती है। माइक्रो स्विच, लीकेज प्रूफ मटैरियल, इंसिडेंट प्रोटेक्शन, मॉड्यूलर फ्यूल फिल्टर, लीक्ड डिटेक्शन, रियर इमपैकट रेसिस्टेंस और 6 प्वाइंट सिलेंडर माउंटिंग स्कीम जैसे फीचर्स मिलए हैं। कार भारत में लॉन्च होने पर  मारुति ब्रेजा सीएनजी को टक्कर दे सकती है।


About Author
Manisha Kumari Pandey

Manisha Kumari Pandey

पत्रकारिता जनकल्याण का माध्यम है। एक पत्रकार का काम नई जानकारी को उजागर करना और उस जानकारी को एक संदर्भ में रखना है। ताकि उस जानकारी का इस्तेमाल मानव की स्थिति को सुधारने में हो सकें। देश और दुनिया धीरे–धीरे बदल रही है। आधुनिक जनसंपर्क का विस्तार भी हो रहा है। लेकिन एक पत्रकार का किरदार वैसा ही जैसे आजादी के पहले था। समाज के मुद्दों को समाज तक पहुंचाना। स्वयं के लाभ को न देख सेवा को प्राथमिकता देना यही पत्रकारिता है। अच्छी पत्रकारिता बेहतर दुनिया बनाने की क्षमता रखती है। इसलिए भारतीय संविधान में पत्रकारिता को चौथा स्तंभ बताया गया है। हेनरी ल्यूस ने कहा है, " प्रकाशन एक व्यवसाय है, लेकिन पत्रकारिता कभी व्यवसाय नहीं थी और आज भी नहीं है और न ही यह कोई पेशा है।" पत्रकारिता समाजसेवा है और मुझे गर्व है कि "मैं एक पत्रकार हूं।"

Other Latest News