किसानों के लिए कृषि मंत्री कमल पटेल ने की ये बड़ी घोषणा

इससे जहां एक तरफ किसानों की फसल की रक्षा होगी। वहीं दूसरी तरफ उन्हें उनके दाम पर अनाज बेचने का मौका मिलेगा।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। किसान कल्याण और कृषि विकास मंत्री कमल पटेल (Kamal patel) ने किसानों (farmers) के लिए बड़ी घोषणा की है। जिसके मुताबिक मध्य प्रदेश (madhya pradesh) की अनाज मंडियों में अभी स्मार्ट मंडिया बनने जा रही है। स्मार्ट मंडियों का फायदा सीधे-सीधे किसानों को होगा। जहां अन्य सुविधाओं के साथ-साथ अब मंडियों में किसानों के लिए इलाज (treatment) की सुविधा भी उपलब्ध होगी।

दरअसल शनिवार को कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा कि मध्य प्रदेश की स्मार्ट अनाज मंडी के निर्माण के साथ ही किसानों को एक तरफ जहां मंडियों में सस्ती दर पर खाना उपलब्ध कराए जाएंगे। वहीं अब सरकार मंडियों में किसान क्लीनिक (Farmer clinic)  भी खोलेगी। कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा कि किसान क्लीनिक में किसानों को इलाज की सुविधा मुहैया करवाई जाएगी।

Read More: कार्रवाई : पांच लाख साठ हज़ार की कच्ची शराब जब्त और सामग्री नष्ट

इतना ही नहीं किसान मंडियों में बाजार की तुलना में 50 फीसद कम दाम पर दवाइयां भी उपलब्ध करवाई जाएगी। कमल पटेल ने कहा कि मंडियों में किसान क्लीनिक में डॉक्टर की भर्ती के लिए शिवराज सरकार द्वारा जल्द ही विज्ञापन निकाला जाएगा। वही कृषि कानूनों का जिक्र करते हुए कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा लगाया गया यह कानून किसानों के हित में सर्वोत्तम कानून है। इससे जहां एक तरफ किसानों की फसल की रक्षा होगी। वहीं दूसरी तरफ उन्हें उनके दाम पर अनाज बेचने का मौका मिलेगा। कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा कि कृषि कानूनों को लेकर अफवाह फैलाई जा रही है। प्रदेश में ना हीं मंडिया बंद होगी और ना ही फसलों से एमएससी हटेगा।

वहीं कृषि मंत्री कमल पटेल ने बताया कि मध्य प्रदेश में स्मार्ट मंडियों की शुरुआत हरदा जिले से की जाएगी। जहां किसानों के लिए उचित इलाज की सुविधा भी उपलब्ध होगी। इसके साथ-साथ स्मार्ट मंडियों की तर्ज पर कृषि उपज मंडी को विकसित कर किया जाएगा। वही मंडियों में अनाज रखने के लिए किसानों के लिए वेयरहाउस बनवाए जाएंगे।