AgustaWestland Scam: इस बड़े घोटाले में अब कमलनाथ के बेटे बकुलनाथ का नाम आया सामने

कमलनाथ ने कहा है कि कोई भी बिना बताए ऑफशोर अकाउंट खोल सकता है।


नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। अगस्ता वेस्टलैंड (Agusta westland) 3000 करोड़ सौदे के मामले में एक बड़ा मोड़ सामने आया है। इस मामले में मुख्य आरोपी राजीव सक्सेना (Rajiv saxena) ने अपने बयान में कांग्रेस (congress) के कई जाने-माने दिग्गज नेताओं का नाम लिया है। इसके बाद एक बार फिर से सियासी हवा बदल रही है। अगस्ता वेस्टलैंड के मुख्य आरोपी राजीव सक्सेना ने 3000 करोड़ के घोटाले में जिनका नाम लिया है। उसमें मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Former Chief Minister of Madhya Pradesh, Kamal Nath) के बेटे बकुलनाथ (Bakulnath) का भी नाम सामने आया है। इसके साथ ही भतीजे रतुल पुरी (Ratul Puri) का नाम सामने आया है। इनके अलावा कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद (Salman Khurshid) और अहमद पटेल (Ahmed Patel) का जिक्र आरोपी राजीव सक्सेना ने अपने बयान में किया है।

दरअसल अगस्ता वेस्टलैंड चॉपर डील (AgustaWestland Chopper Deal) केस में मुख्य आरोपी राजीव सक्सेना को 3 हफ्ते पहले ही अंतरिम जमानत मिली है। जिसके बाद एक बार फिर से चार्टर्ड अकाउंटेंट और अगस्ता के मुख्य आरोपी राजीव सक्सेना ने अपने बयान में पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के बेटे बकुल नाथ और भतीजे रतुल पुरी का नाम लेकर मामले को गरमा दिया है। राजीव सक्सेना ने अहमद पटेल और सलमान खुर्शीद का भी नाम लिया है।

राजीव सक्सेना ने अपने आरोप में कहा है कि गुप्ता और खेतान प्रभावी राजनेताओं का नाम इस्तेमाल करते थे। डील करने के लिए अक्सर सलमान खुर्शीद और कमलनाथ का नाम लेते थे। बता दे कि इंटरस्टेलर टेक्नालॉजिस का स्वामी मोहन गुप्ता हैं और गौतम खेतान उस कंपनी को नियंत्रित करते थे।  आरोपी राजीव सक्सेना ने अहमद पटेल के नाम का जिक्र करते हुए कहा कि बातचीत के दौरान यह दोनों लोग अहमद पटेल को AP बुलाते थे।

Read More: सीएम शिवराज सिंह चौहान आज करेंगे तिरूपति बालाजी मंदिर में दर्शन, सरकार के नए विमान से भरी उड़ान

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने जारी किया बयान 

इधर इस मामले में बकुल नाथ (Bakul nath) और रतुल पुरी का नाम सामने आने पर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बयान जारी किया है। पूर्व मंत्री मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि मैं पहले भी कह चुका हूं कि मेरे भतीजे रतुल पुरी की कंपनियों या लेन-देन से मेरा कोई वास्ता नहीं है। वहीं अगर मेरे बेटे की बात की जाए तो वह दुबई में रहता है। इसके साथ ही कमलनाथ ने कहा है कि इस बारे में जब उन्होंने बकुलनाथ से बात की तो उसने कहा कि उन्हें इस बारे में कुछ नहीं पता है। कमलनाथ ने कहा है कि कोई भी बिना बताए ऑफशोर अकाउंट खोल सकता है। कमलनाथ ने कहा है कि ऐसे कोई दस्तावेज या कागजात नहीं है। जिसमें मेरे बेटे ब


कुल नाथ का कनेक्शन सामने आता हो।

अहमद पटेल ने किया अपना बचाव

दूसरी तरफ इस मामले में अहमद पटेल ने अपना बचाव करते हुए कहा है कि यह मेरे लिए चौंकाने वाला है कि इसमें मेरा नाम उछाल दिया गया है। कांग्रेस नेता अहमद पटेल ने कहा कि सुषेण मोहन गुप्ता के पिता देव मोहन गुप्ता से मेरी पारिवारिक संबंध है। इसके अलावा मैं किसी रतुल पुरी या सक्सेना को नहीं जानता हूं।

गौरतलब हो कि राजीव सक्सेना को जनवरी 2019 में दुबई से भारत लाया गया था। जहां ईडी (ED) ने अगस्ता मामले में उनसे पूछताछ शुरू की थी। इस मामले में चार्टर्ड अकाउंटेंट राजीव सक्सेना की 385 करोड रुपए की संपत्ति भी अटैच की गई थी। अगस्ता मामले में लगातार कांग्रेसी नेताओं के नाम सामने आते रहे हैं क्योंकि अगस्ता वेस्टलैंड सौदे में कमियां बता कर यूपीए-2 सरकार ने इस सौदे को रद्द कर दिया था।

इसके बाद से ही कमलनाथ के भतीजे रतुल पुरी का नाम इस घोटाले में सामने आता रहा है। वहीं रतुल पुरी को हिरासत में भी लिया गया था। फिलहाल वह जमानत पर बाहर है। बता दें कि यह डील दो कंपनियों के बीच हुई थी। जिसमें राजीव सक्सेना इंटरस्टेलर टेक्नालॉजिस और क्रिश्चियन मिशेल की ग्लोबल सर्विस थी। अगस्ता देश के प्रमुख घोटालों में से एक है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here