जबलपुर, संदीप कुमार। जबलपुर की कैंट थाना पुलिस में भाजपा नेता ने ठगी के मामले में अपने आपको सरेंडर किया हैआरोपी का नाम राहुल शिवहरे है जो कि वर्तमान में सिवनी जिले से भाजपा जनपद सदस्य है। आरोपी के कई दिग्गज भाजपा नेताओ से खासमखास संबध भी है। आरोपी राहुल शिवहरे को लाखों रु की ठगी के मामले में बुधवार को कैंट थाने में सरेंडर किया है।

भाजपा का दिग्गज नेता है राहुल शिवहरे

आरोपी राहुल शिवहरे के भाजपा के कई दिग्गज नेताओं से संबध है। साथ ही वह धूमा से जनपद सदस्य भी है। आरोपी बीते 2018 से फरार चल रहा है था। जिसके चलते उस पर 6 हजार रु का ईनाम घोषित किया गया था।

अपने ही रिश्तेदार से ठग लिए लाखों रु

भाजपा नेता राहुल शिवहरे ने अपनी नेतागिरी की दम पर अपने ही मामा के बेटे को शिकार बनाया। राहुल ने जबलपुर निवासी पिंटू चौकसे को रेत खनन में पार्टनर बनाकर उससे 32 लाख रु ठग लिए। आरोपी ने पिंटू चौकसे को सिवनी केवलारी में स्थित रेत खदान में 45% का पार्टनर बनने का लालच देकर उनसे 32 लाख रु ले लिए। जबकि राहुल का उस खदान में 37% का हिस्सा था। पिंटू चौकसे की शिकायत पर कैंट थाना पुलिस ने राहुल पर 2018 में धारा 420,67,68,71 के तहत मामला दर्ज कर तलाश कर रही थी। इसी बीच बुधवार की रात स्वयं आरोपी राहुल ने कैंट थाने में अपने आपको सरेंडर कर दिया।

Read More: Modi Cabinet Expansion: मंत्रिमंडल विस्तार के बाद गरमाया मामला, दिल्ली HC में दायर की गई याचिका

हाईकोर्ट से अग्रिम जमानत हो चुकी थी खारिज

सिवनी जिला निवासी भाजपा नेता राहुल शिवहरे बीते तीन साल से कई लोगो के साथ लाखों रु की ठगी करने के मामले में फरार चल रहा था। सिवनी जिले के कई थानों सहित जबलपुर के कैंट और गोरखपुर थाने में अपराध दर्ज होने के बाद आरोपी राहुल शिवहरे ने हाई कोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका लगाई थी। जिसे की खारिज कर दी गई थी।

पुलिस करेगी पूछताछ कौन-कौन है पार्टनर

बीते तीन साल से फरार चल रहा भाजपा जनपद सदस्य राहुल शिवहरे ने बुधवार को जबलपुर के कैंट थाने में जाकर अपने आपको सरेंडर किया है। अब पुलिस आरोपी से पूछताछ करेगी कि आखिर कौन-कौन शामिल है उसके साथ इस फर्जीवाड़े में। ग़ौरतलब है कि आरोपी राहुल शिवहरे के भाजपा के दिग्गज नेताओं सहित कई अधिकारियों से भी खास संबध है।