8 दिसंबर को हो सकता है मंत्रिमंडल विस्तार, राज्यपाल 7 को आएंगी भोपाल

हालांकि सिंधिया खेमा चाहता है कि सिलावट और राजपूत के अलावा भी उनकी तरफ के 1 या 2 लोग को मंत्री बनाया जाए।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) से मुलाकात के बाद एक बार फिर से मध्य प्रदेश (madhya pradesh) में मंत्रिमंडल विस्तार (Cabinet expansion) पर चर्चा तेज हो गई है। इसके साथ ही राज्यपाल आनंदीबेन पटेल (Governor Anandiben Patel) 7 दिसंबर को मध्यप्रदेश पहुंच रही हैं। इसलिए माना जा रहा है कि 8 दिसंबर को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कैबिनेट का विस्तार कर सकते हैं।

दरअसल मध्यप्रदेश उपचुनाव (MP By-election) में 28 में से 19 सीटें जीतकर बीजेपी ने बहुमत को अपनी तरफ कर लिया है। हालांकि उपचुनाव में बीजेपी के तीन मंत्री की हार हुई है। इसके बाद कैबिनेट में खाली पड़े 6 सीटों पर किनकी किस्मत चमकेगी। इसका निर्णय किया जा सकता है।

Read More: नायब तहसीलदार की दुत्कार से किसान ने की खुदकुशी की कोशिश, एसडीएम ने संभाला मोर्चा

हालांकि खाली पड़ी छह सीटों में दो पर ज्योतिरादित्य सिंधिया के कैंप के तुलसी सिलावट और गोविंद सिंह राजपूत की शपथ होनी है। वहीं दूसरी तरफ उपचुनाव में इमरती देवी, गिर्राज दंडोतिया, और ऐंदल सिंह कसाना के चुनाव हारने के बाद बीजेपी अपने खेमे से दो तीन लोगों को मंत्री पद सौंप सकती है। हालांकि सिंधिया खेमा चाहता है कि सिलावट और राजपूत के अलावा भी उनकी तरफ के 1 या 2 लोग को मंत्री बनाया जाए।

अब ऐसे में पिछले दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा के कुछ वरिष्ठ नेताओं से संपर्क कर वापस भोपाल आए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान संगठन से चर्चा के बाद इस पर निर्णय ले सकते हैं। वही अभी तत्काल में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की कैबिनेट में 28 मंत्री मौजूद है। जहां चर्चा है कि 7 को राज्यपाल आनंदीबेन पटेल के भोपाल पहुंचने के बाद 8 को सीएम शिवराज मंत्रिमंडल का विस्तार कर सकते हैं।