यहां कॉल गर्ल्स कर रही कोरोना की जांच, वैश्यालय को बनाया कोरोना टेस्टिंग सेंटर

sex-racket

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना (corona) महामारी से निपटने के लिए हर कोई अपने स्तर पर प्रयास कर रहा है। शासन प्रशासन के साथ कई एनजीओ, संगठन, संस्थाओं और व्यक्तियों ने भी आपसी सहयोग से इस महामारी के खिलाफ जंग छेड़ रखी है। इस बीच जर्मनी (Germany) में एक उदाहरण पेश किया गया जब एक वैश्यालय (Brothel) को कोरोना टेंस्टिंग सेंटर बना दिया गया।

इंदौर- युवक की थाने में जमकर पिटाई, घरवालों ने बनाया बेहाल युवक का वीडियो, टीआई लाइन अटैच

कोरोना वायरस की इस महामारी के दौरान लोगों की सहायता करने और टेस्टिंग के लिए इस वैश्लालय को पूरी तरह तब्दील कर दिया गया है। दक्षिण-पश्चिमी जर्मनी में हायडलबर्ग शहर में स्थित इस वैश्यालय का नाम बिहीव लव सेंटर है। यहां करीब 25 महिलाएं काम करती हैं। वहां की हैल्थ वर्कर्स ने इन महिलाओं को कोरोना टेस्ट करने की ट्रेनिंग दी और अब उनमें से कुछ ये काम कर रही हैं। इसके लिए उन्हें गाउन, मास्क और ग्लव्स पहनने पड़ते हैं। यहां काम करने वाली 45 साल की महिला जेनी ने बताया कि जर्मनी न्यूज वेबसाइट बाइल्ड के साथ बातचीत में बताया कि आमतर पर मैं खुदको इतना ढंककर नहीं रखती हूं। लेकिन इस वायरस के कारण हमें कई इंतजाम करने पड़े और हम सारी सावधाननी बरत रहे हैं। उन्होने कहा कि हम अपने पुराने काम में भी काफी सतर्क रहते थे और इस बार जो जिम्मेदारी सौंपी गई है उसमें भी पूरी एहतियात बरत रहे हैं। इस जगह के मालिक 59 साल के केन ने ये स्थान प्रशासन को मुफ्त में उपलब्ध कराया है।