आबकारी मंत्री के विधानसभा क्षेत्र में जहरीली शराब से मौतों का मामला, एसीएस गृह सहित तीन आईपीएस करेंगे जांच

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। प्रदेश के आबकारी मंत्री जगदीश देवड़ा के विधानसभा क्षेत्र मल्हारगढ़ में शराब पीने से हुई मौतों का मामला सरकार के लिए चुनौती बन गया है। मुख्यमंत्री ने इस मामले की जांच के लिए गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजेश राजौरा की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय जांच दल गठित किया है।

मध्यप्रदेश में 44 प्रतिशत लोगों को कोरोना वैक्सीन का पहला डोज लगा, सीएम शिवराज ने कही ये बड़ी बात

मंदसौर जिले के मल्हारगढ़ विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले गांव में जहरीली शराब पीने से हुई मौतों का आंकड़ा अब छह पहुंच गया है जबकि कांग्रेस दस लोगों की मौत होने की बात कह रही है। राज्य सरकार ने इस मामले को गंभीरता से लिया है और घटना के समग्र पहलुओं की जांच के लिए विशेष जांच दल बनाया गया है। मध्यप्रदेश के अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह राजेश राजौरा इस मामले में जांच दल के अध्यक्ष होंगे और दो अन्य आईपीएस एडीजी पुलिस सतर्कता जीपी सिंह और एम एस सिकरवार आईजी रेल भोपाल इसके सदस्य होंगे। जांच दल घटना के समग्र पहलुओं की जांच करके अपनी जांच राज्य सरकार को सौंपेगा जिसके बाद में कार्रवाई की जाएगी।

हालांकि आबकारी मंत्री के इलाके में हुई इस घटना ने राज्य सरकार उन दावों पर सवालिया निशान खड़ा कर दिया है जिसमें मुरैना व छतरपुर में जहरीली शराब से हुई मौतों के बाद कहा गया था कि किसी भी तरह से हुई मौतों के लिए सीधे तौर पर पुलिस व प्रशासन के आला अधिकारी जिम्मेदार होंगे।

आबकारी मंत्री के विधानसभा क्षेत्र में जहरीली शराब से मौतों का मामला, एसीएस गृह सहित तीन आईपीएस करेंगे जांच