सीएम शिवराज की अधिकारियों को दो टूक- जो परफॉर्मेंस देगा, वो टिकेगा

इससे पहले दिसंबर के अंतिम सप्ताह में हुए कलेक्टर-कमिश्नर की बैठक में कार्य में लापरवाही बरतने के मामले में सीएम शिवराज ने कटनी कलेक्टर नीमच एसपी को उनके पद से बर्खास्त कर दिया था।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। नए साल में मध्य प्रदेश (madhya pradesh) के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) पांच मुख्य संकल्प के साथ प्रदेश में विकास की नई परिभाषा लिखने को तैयार हैं। नववर्ष से पूर्व ही उन्होंने सख्त निर्देश दिया है कि जनता की सेवा ही उनकी सरकार का मुख्य उद्देश्य है और जन हितेषी कार्यों में ढिलाई किसी भी प्रकार से बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इसके साथ ही आज नए वर्ष 2021 की पहली कलेक्टर-कमिश्नर बैठक आयोजित की गई। जिसमें मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सभी अधिकारियों को नव वर्ष की बधाई दी।

वहीँ सीएम शिवराज ने कहा कि मध्यप्रदेश का विकास ही हमारा एक मात्र लक्ष्य है। मेरा किसी से भी राग या द्वेष नहीं है। मध्यप्रदेश की प्रगति, विकास और जनता के कल्याण का मेरे मन में एक जुनून है और इसी लिए मैं मुख्यमंत्री बना हूँ। असंभव कुछ नहीं है। मुख्यमंत्री शिवराज ने कहा संभव की सीमा जानने का एक ही तरीका है- असंभव से आगे निकल जाना!

दरअसल प्रदेश में सुशासन की स्थिति को और दृढ़ करने के लिए यह बैठक महत्वपूर्ण रही। सीएम शिवराज ने अधिकारियों को कहा कि वो असम्भव को नहीं मानते। मुख्यमंत्री शिवराज ने कहा कि हमें नये साल में आगे निकलना है। सीएम शिवराज (CM Shivraj) ने प्रदेश भर के अधिकारियों के साथ विभिन्न मुद्दों पर चर्चा करते हुए कहा कि न राग है, न द्वेष है, हमें विकास में आगे बढ़ना है, जो परफॉर्मेंस देगा वो टिकेगा।

Read More: पिता के पदचिन्हों पर शिवराज पुत्र कार्तिकेय, कहा- काबिलियत से बनाऊंगा जगह

इस बैठक में उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि हर जिले में क्या क्या करना है। सीएम शिवराज ने कहा कि मैंने शहरी क्षेत्रों को निर्देश दिए हैं। योजनाओं का लाभ सही समय पर मिल जाये। काम बिना लिए-दिए हो जाये। यह गुड़ गवर्नेंस हमें बनाना है। सीएम शिवराज ने कहा हम ज़िलों के विकास का सालाना प्लान बनाएंगे। उपलब्ध संसाधनों के आधार पर हम विकास के लिए क्या करें, इसका प्लान हो।

इसके साथ ही प्रदेश के हर जिले के विकास कार्य को सुनिश्चित करते हुए सीएम शिवराज ने कहा भारत सरकार की सभी योजनाओं में नंबर एक रहना है। कौन जिला नंबर वन ये स्वस्थ ​प्रतिस्पर्धा रहना है। हमारे जिले का विकास का सालान प्लान हमें तैयार करना है। 1 अप्रैल से बनाए हुए प्लान पर हमको चलना है। उन्होंने कहा कि हमें प्रदेश में रेवेन्यू राजस्व बढ़ाना है। पैसे की कमी का रोना नहीं रोना है। चाहे जीएसटी हो या वाणिज्य कर का मामला हो उस पर चर्चा करेंगे।

कोरोना वैक्सीन पर बोलते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कोरोना की वैक्सीन की तैयारी हो गई है। जिन्हें ज्यादा जरूरी है, उन्हें पहले लग जाये ये देखना हमारा काम होगा। शिवराज सिंह चौहान बोले कि उन्होंने तय किया है कि जरूरी लोगों को पहले वैक्सीन लग जाये। उसके बाद वह वैक्सीन लगवाएंगे। सीएम शिवराज ने कहा टीकाकरण की व्यवस्थाएँ सभी ज़िलों ने की हैं। प्रायॉरिटी ग्रुप्स को वैक्सीन लग जाये, इसके लिए हमें जुटना होगा। पहले हमें प्रायॉरिटी ग्रुप्स के लिए वैक्सिनेशन सुनिश्चित करना है।

बता दें कि इससे पहले दिसंबर के अंतिम सप्ताह में हुए कलेक्टर-कमिश्नर की बैठक में कार्य में लापरवाही बरतने के मामले में सीएम शिवराज ने कटनी कलेक्टर और नीमच एसपी को उनके पद से बर्खास्त कर दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here