प्रदेश के युवाओं को सीएम शिवराज का बड़ा तोहफा, 18 महीने में पूरा होगा लक्ष्य

सीएम शिवराज ने आश्वासन दिया है कि विश्वविद्यालय की स्थापना से जुड़े सभी कार्य समय पर पूरे किए जाएंगे।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (shivraj singh chauhan) प्रदेश को बड़ा तोहफा देने जा रहे हैं। मध्यप्रदेश में अजीम प्रेमजी फाउंडेशन (Azim Premji Foundation) द्वारा विश्वविद्यालय (university) की स्थापना की जाएगी। इसके लिए मध्यप्रदेश सरकार फाउंडेशन को हर संभव सहायता करेगी। इस सिलसिले में आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग (videoconferencing)  के जरिए विप्रो के अजीम प्रेमजी से विश्वविद्यालय स्थापना पर चर्चा कर रहे हैं।

चर्चा के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि अजीम प्रेमजी से शिक्षा योजनाएं, नई शिक्षा नीति (news education policy) के क्रियान्वयन पर चर्चा की गई। इसके साथ ही सीएम शिवराज (cm shivraj) ने बताया कि अगले डेढ़ वर्ष में प्रदेश में विप्रो लिमिटेड (Wipro limited) के अजीम प्रेमजी फाउंडेशन द्वारा नया विश्वविद्यालय स्थापित किया जाएगा।

सीएम शिवराज ने कहा कि भोपाल में विप्रो समूह (wipro) द्वारा सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट सेंटर (software development center) की स्थापना के लिए सहमति प्रदेश के लिए अति महत्वपूर्ण है। शिवराज ने कहा कि प्रदेश में युवाओं को अधिक से अधिक रोजगार देने के अवसर प्रदान किए जा रहे हैं। इस दृष्टि से डेवलपमेंट सेंटर की उपयोगिता रहेगी। वहीं आईटी क्षेत्र (IT Field) में भी युवाओं को अधिक रोजगार मिलेंगे।

बता दें कि भोपाल में अजीम प्रेमजी फाउंडेशन को विश्वविद्यालय के लिए 50 एकड़ भूमि आवंटित की गई है। वहीं 18 महीने में विश्वविद्यालय स्थापना का लक्ष्य रखा गया है। सीएम शिवराज ने अजीम प्रेमजी को आश्वासन दिया है कि विश्वविद्यालय की स्थापना से जुड़े सभी कार्य समय पर पूरे किए जाएंगे। वही सीएम शिवराज ने कहा कि भोपाल में उच्च शिक्षा (higher education) के क्षेत्र में और आईटी की उपयोगिता में यह विश्वविद्यालय एक महत्वपूर्ण संस्था के रूप में उभरेगा। इसके साथ ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अजीम प्रेमजी फाउंडेशन से नॉलेज पार्टनर (knowledge partner) बनाने की अपील की थी। जिस पर सहमति जताते हुए अजीम प्रेमजी फाउंडेशन ने विशेषज्ञ सेवाएं उपलब्ध करवाने की बात कही है।

Read More: मिसाल: महज 11 दिन के प्रसूति अवकाश के बाद काम पर लौटी निगमायुक्त, दंग हुए लोग

सीएम शिवराज ने कहा कि मध्य प्रदेश के 1151 प्राथमिक और मिडिल स्कूलों में अजीम प्रेमजी फाउंडेशन कार्य कर रही है। इसके साथ ही 5 जिले में फाउंडेशन की गतिविधियां संचालित है जिसे अन्य जिलों में भी विस्तारित किया जाएगा। वही अजीम प्रेमजी फाउंडेशन अर्ली चाइल्डहुड केयर (early childhood care) और एजुकेशन (education) के क्षेत्र में भी गतिविधियां संचालित कर रही है।

इतना ही नहीं सीएम शिवराज ने कहा कि मध्यप्रदेश में साढे तीन लाख महिला स्व सहायता समूह श्रेष्ठ कार्य से जुड़ी हुई हैं इन्हें आंदोलन का स्वरूप दिया जाना है। जिससे समूह की उपयोगिता और आर्थिक समृद्धि बढ़ेगी। सीएम शिवराज ने बताया कि स्व सहायता समूह से जुड़कर महिलाएं कोरोना काल में फेस मास्क (face mask) का निर्माण कर रही हैं। इसके साथ ही रेडी टू ईट के लिए 5 फैक्ट्री का संचालन स्व सहायता समूह ने ही संभाला है। वहीं सीएम शिवराज ने अजीम प्रेमजी से स्वास्थ्य, शिक्षा पर फोकस के साथ-साथ फाउंडेशन द्वारा कुपोषण उन्मूलन और पोषण के प्रति जागरूकता के क्षेत्र में सहयोग की अपील की है।

3 COMMENTS

  1. Manneey cm sahab abm chunav Ayog Adhikari mahoday se kese nivedan karu
    Ki krapa kare pahle panchayat election
    February me hi kara de kya bajah hai chunav nahi kara pa rahe hai 1sal pahale karykal samapt hone ke bad bhi
    Jai mp Sarkar or jai nirbachon Ayog

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here