मप्र में बिगड़े हालात, 24 घंटे में मिले 4324 नए मरीज, 27 की मौत

बता दें कि कोरोना की दूसरी लहर में एक्टिव केसों की संख्या बढ़कर 26,000 के पार पहुंच गई है।

dewas

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मप्र (madhya pradesh) में कोरोना (corona) भयानक रूप ले रहा है। हर दिन पहले के रिकॉर्ड ध्वस्त नजर आ रहे हैं। संक्रमण की रफ्तार से एक्टिव केसों की संख्या में बढ़ोतरी देखी जा रही है। वहीं पिछले 24 घंटे में मध्यप्रदेश में रिकॉर्ड 4,324 नए मरीजों की पुष्टि हुई है। वही 27 मरीजों की मौत हो गई है।

दरअसल 24 घंटे में 4,324 नए केस की पुष्टि हुई है। वही 27 मरीजों की मौत की खबर सामने आई है। बता दें कि 6 महीने बाद यह 1 दिन में मौत का सबसे बड़ा आंकड़ा है।  संक्रमण की रफ्तार को देखते हुए पूरे प्रदेश में शुक्रवार शाम 6:00 बजे से सोमवार सुबह 6:00 बजे तक के लिए लॉकडाउन घोषित कर दिया गया है। इसके अलावा 52 जिलों में से 43 जिलों में लगातार संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं।

Read More: कोरोना ने बढ़ाई टेंशन, रतलाम में 9 से 19 अप्रैल तक टोटल लॉकडाउन की घोषणा

इसके अलावा सीएम शिवराज (CM Shivraj) ने अस्पतालों में बेड बढ़ाने की व्यवस्था शुरू कर दी है। साथ ही सभी सरकारी अस्पताल में 50 फीसद बेड कोरोना मरीजों के लिए रिजर्व रखने के निर्देश दे दिए गए हैं। वही प्रतिदिन क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक के निर्देश सीएम शिवराज ने सभी कलेक्टरों को दिए।

इसके अलावा संक्रमण के बढ़ते रफ्तार के कारण ऑक्सीजन से लेकर रेमडेसीविर इंजेक्शन के लिए व्यवस्था पूरी कर ली गई है। भिलाई स्टील प्लांट से 60 तक ऑक्सीजन रोज सप्लाई के लिए राज्य सरकार ने तैयारी कर ली है। वहीं ऑक्सीजन की पहली खेप मध्यप्रदेश में 2 दिनों के बाद उपलब्ध कराई जाएगी।

बता दें कि कोरोना की दूसरी लहर में एक्टिव केसों की संख्या बढ़कर 26,000 के पार पहुंच गई है। जिसके बाद कोरोना मरीजों को प्रतिदिन औसत 130 टन ऑक्सीजन की जरूरत है। इसके अलावा अन्य राज्यों से 200 टन ऑक्सीजन के लिए करार किया जा रहा है।