कांग्रेस विधायक ने बीजेपी के मंच पर किया हंगामा, दिग्विजय सिंह ने कहा- शाबाश सुनील

अनूपपुर जिले के कोतमा में बीजेपी द्वारा सड़क निर्माण भूमि पूजन (Road construction) के कार्यक्रम में नाराज कांग्रेस विधायक (Congress MLA) ने मंच पर ही हंगामा शुरू कर दिया। जिसे लेकर पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने शाबाशी दी है।

अनूपपुर, डेस्क रिपोर्ट। अनूपपुर जिले के कोतमा में सड़क निर्माण (Road construction in Kotma) को लेकर भूमि पूजन के लिए बीजेपी द्वारा कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जहां कांग्रेस विधायक (Congress MLA) को भी आमंत्रित किया गया था। फिर क्या था, मंच बीजेपी का था, लेकिन कांग्रेस विधायक ने वहां धमाल मचा दिया। जी हां, बीजेपी द्वारा आयोजित भूमि पूजन कार्यक्रम में कांग्रेस विधायक सुनील सराफ (Congress MLA Sunil Saraf) को भी बुलाया गया था, जहां पर कांग्रेस विधायक इस बात से नाराज हो गए कि उन्हें मंच पर बोलने नहीं दिया गया। जिसके बाद नाराज कांग्रेस विधायक (Angry Congress MLA) ने मंच पर ही हंगामा कर दिया, जिसका वीडियो वायरल (Video viral) हो रहा है।

पूर्व सीएम दिग्विजय ने दी शाबाशी

कांग्रेस विधायक द्वारा कोतमा में आयोजित कार्यक्रम में विरोध प्रदर्शन करने को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह (Former Chief Minister Digvijay Singh) ने शाबाशी दी है। ट्वीट कर दिग्विजय सिंह ने कांग्रेस विधायक के विरोध प्रदर्शन के वायरल वीडियो को लेकर कहा कि ‘शाबाश सुनील, हर कांग्रेस जन को भाजपा के ढोंग को उजागर करने के लिए सड़क पर उतरना पड़ेगा।

 

मंच पर भड़के कांग्रेस विधायक

इस दौरान बीजेपी के कार्यक्रम मंच से आने के बाद विधायक सुनील सराफ ने मीडिया से मुखातिब होते हुए बताया कि ‘मैं जनता का प्रतिनिधी हूं, शर्म आना चाहिए इन भाजपा के नेताओं को, जिस सड़क को मैंने स्वीकृत कराया था, उस बैठक में मंत्री बिसाहू लाल जी के साथ अन्य कई नेता मौजूद थे। इसके बावजूद बीजेपी आज इस निर्माण को अपने नाम से जोड़ रहे हैं।’

कांग्रेस विधायक ने बीजेपी का किया विरोध

कांग्रेस विधायक ने कहा कि ‘कार्यक्रम में विधायक को बुलाकर बोलने का मौका नहीं दिया जा रहा है। बीजेपी अपनी बात करने में लगे है, ऐसा है तो कह दो कि पूरा नगर आपने बसाया है। आप अपने मुंह से कुछ भी कह दो, यह कोई तरीका होता है, यह केवल मेरा अपमान नहीं है, बल्कि कोतमा क्षेत्र की डेढ़ लाख जनता और मतदाता का अपमान है। ये तानाशाही है और ये तानाशाही दोबारा नहीं चलेगी।’

मंत्री बिसाहूलाल ने तंज कसते हुए कही ये बातें

इस कार्यक्रम को लेकर खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री बिसाहूलाल ने तंज कसते हुए कहा था कि ‘कुछ नेता हैं, जिनका नाम नहीं लेना चाहूंगा. वे विकास की जगह जुआ, सट्टा, कबाड़ को महत्व देते हैं।’ आगे उन्होंने कहा था कि ‘ये नेता कबाड़ वालों को कबाड़ का धंधा कराएंगे, साथ में शराब पीने वालों को शराब का धंधा कराएंगे और जब वह पकड़े जाएंगे तो एसपी और कलेक्टर को फोन कर छुड़वाएंगे।’

कांग्रेस विधायक की ली चुटकी

इसी संबंध में खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री बिसाहूलाल ने कहा ‘इससे कोई विकास नहीं होता। विकास आत्मा से होता है, सोच से होता है।’ इस दौरान मंत्री बिसाहूलाल ने कांग्रेस विधायक सुनील सराफ से कोतमा में हुई मारपीट के संबंध में चुटकी ली, जिसमें उन्होंने कहा कि सुनने में आता है कि कभी दो बजे रात में हमारे विधायक के साथ मारपीट हो गई। ऐसी सूचना से बड़ा दुख होता है।

बिसाहूलाल ने कहा- मेरे लिए सभी विधायक है बराबर

वहीं उन्होंने कहा कि ‘हमे ऐसा कर्म नहीं करना चाहिए कि जिससे मार खाने की नौबत आ जाए। विधायक हम भी है और हमारे लिए सभी विधायक एक बराबर है, ऐसे में बीजेपी का विधायक हो, या फिर कांग्रेस का विधायक या फिर कोई अन्य पार्टी का विधायक के साथ मारपीट होती है, तो बड़ा दुख होता है।’ मंत्री ने कहा कि ‘विधायकों को ऐसा काम नहीं करना चाहिए, जिससे मार-पिटाई की नौबत आ जाए। और हमने बड़ी गहराई से पता लगाया कि मार खाने की वजह क्या है, पता चला पर बताने लायक नहीं है।’