17 मई के बाद इन जिलों में क्रमश हट सकता है कोरोना कर्फ्यू, सीएम ने दिए संकेत

शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कोरोना कर्फ्यू के बाद आप सब के कड़े अनुशासन और सरकार के प्रयासों के चलते अब धीरे-धीरे कोरोना काबू मे आ रहा है।

madhya Pradesh

भोपाल डेस्क रिपोर्ट। सीएम शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan)  ने संकेत दिए हैं कि मध्य प्रदेश के उन जिलों में जहां संक्रमण की दर 5% से कम होगी, 17 मई के बाद धीरे-धीरे कोरोना कर्फ्यू (Corona Curfew) हटाया जाएगा। उन्होंने प्रदेश में कोरोना को काबू में पाने का भी दावा किया है।

यह भी पढ़े.. Pension: गुरुवार को इस योजनांतर्गत 301 करोड़ ट्रांसफर करेंगे सीएम, 50 लाख हितग्राहियों को मिलेगा लाभ

प्रदेश की जनता को संबोधित करते हुए सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कोरोना कर्फ्यू के बाद आप सब के कड़े अनुशासन और सरकार के प्रयासों के चलते अब धीरे-धीरे कोरोना काबू मे आ रहा है। अब हम प्रदेश में पॉजिटिविटी रेट 25 फ़ीसदी की बजाय 14 फ़ीसदी तक लाने में कामयाब हुए हैं।

डब्ल्यूएचओ (WHO) के मानदंडों के अनुसार जिन जगहों पर 5% से कम पॉजिटिविटी रेट रहती है वहां महामारी नियंत्रण में आने की बात की जाती है और इसलिए 17 मई के बाद जिन जिलों में पॉजिटिविटी रेट 5% से कम रहेगा वहां क्रमशः कोरोना कर्फ्यू हटाया जाएगा। लेकिन साथ ही उन्होंने यह भी चेताया कि यदि 5% से ज्यादा पॉजिटिविटी रेट रहती है तो उन जिलों में अभी भी कर्फ्यू लागू रहेगा।

Lunar eclipse 2021: 26 मई को साल का पहला चंद्रग्रहण, इन राशियों पर डालेगा असर

सीएम ने इस बात को लेकर भी राहत की बात कही कि हम कोरोना प्रभावित राज्यों में 7 की बजाय 15 स्थान पर पहुंच गए हैं।सीएम ने यह भी संकेत दिए हैं कि प्रदेश में ब्लैक फंगस का उपचार भी सरकार निशुल्क करेगी। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि अभी कोरोना कर्फ्यू का कड़ाई से पालन करें, घरों से बाहर नहीं निकले। सरकार ने आयुष्मान कार्ड के माध्यम से प्रदेश के 2 करोड़ 40 लाख आयुष्मान कार्ड (Ayushman card) धारियों व उनके परिवारों के लिए निशुल्क इलाज की निजी और सरकारी अस्पतालों की व्यवस्था की है।